Top
राजनीति

कोरोना वायरस की अफवाह से केरल का पर्यटन उद्योग हुआ चौपट तो दिल्ली का गांधी मार्केट पड़ा ठंडा

Nirmal kant
5 Feb 2020 5:09 AM GMT
कोरोना वायरस की अफवाह से केरल का पर्यटन उद्योग हुआ चौपट तो दिल्ली का गांधी मार्केट पड़ा ठंडा
x

गांधीनगर एशिया का सबसे बड़ा होलसेल गारमेंट मार्केट है और यहां 20 फीसदी सामान चीन से आता है। अब कोरोना वायरस के सामने आने के बाद चीन में भारत के ब्रोकर्स ने अपने आफिस बंद कर दिये हैं और यहां के व्यापारी कोई भी बड़ा आर्डर नहीं ले रहे हैं

चीन में कोरोना वायरस के कारण अब तक कम से कम 490 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा वैश्विक स्तर पर देखें तो इसके संक्रमण के अब तक 20,627 मामले दर्ज किए जा चुके हैं....

जनज्वार। नोवेल कोरोना वायरस को काबू में करने की कोशिश की जा रही है। इस मामले में हमारे देश में केरल में अब तक तीन लोग इस वायरस की जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं। केरल के स्वास्थ्य विभाग की ओर से आम लोगों को स्वास्थ्य सलाह का पालन करने की सलाह दी जा रही है। इससे पहले केरल के स्वास्थ्य मंत्री केके शैलेंद्र ने सुझाव दिया था कि संभावना है कि वुहान से लौटे केरलवासियों में से अधिक पॉजीटिव मामलों को खारिज नहीं किया जा सकता है।

केरल में कोरोनो वायरस के तीन पॉजिटिव मरीज मिलने से राज्य में पर्यटन उद्योग बुरी तरह प्रभावित हुआ है। पर्यटकों ने अपनी बुकिंगें रद्द कर दी हैं। केरल के पर्यटन मंत्री कडकमपल्ली सुरेंद्रन ने मंगलवार 4 फरवरी को राज्य विधानसभा को बताया कि पूर्व में बुकिंग करने वाले विदेशी मेहमानों ने राज्य से सकारात्मक कोरोना वायरस मामलों के बाद अपनी यात्रा रद्द कर दी है।

यह भी पढ़ें : कोरोना वायरस को लेकर आयुष मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, कहा सिर पर हर्बल ऑयल लगाने से दूर होगी बीमारी

कोरोना वायरस की अफवाहों से न सिर्फ केरल का पर्यटन उद्योग चौपट हुआ है, बल्कि दिल्ली का गांधीनगर का गारमेंट होलसेल मार्केट भी प्रभावित हुआ है। गांधीनगर एशिया का सबसे बड़ा होलसेल गारमेंट मार्केट है और यहां 20 फीसदी सामान चीन से आता है। अब कोरोना वायरस के सामने आने के बाद चीन में भारत के ब्रोकर्स ने अपने आफिस बंद कर दिये हैं और यहां के व्यापारी कोई भी बड़ा आर्डर नहीं ले रहे हैं। माना जा रहा है कि इससे तकरीबन 10 हजार व्यापारी प्रभावित होंगे।

है कि चीन में कोरोना वायरस के कारण अब तक कम से कम 490 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा वैश्विक स्तर पर देखें तो इसके संक्रमण के अब तक 20,627 मामले दर्ज किए जा चुके हैं।

संबंधित खबर : कोरोना वायरस को लेकर आयुष मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, कहा सिर पर हर्बल ऑयल लगाने से दूर होगी बीमारी

केरल में राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की शीर्ष समिति की बैठक में कोरोना वायरस को 'राज्य विशिष्ट आपदा' घोषित किया। इससे सरकार को निवारक उपायों के लिए अधिक धन आवंटित करने में मदद मिलेगी।

में कोरोनो वायरस के मामलों की रिपोर्ट के बाद फरवरी और मार्च में पर्यटकों द्वारा राज्य के होटलों में बहुत सारी बुकिंग्स को रद्द कर दिया गया है।

रवरी और मार्च के महीनों को आमतौर पर पर्यटन सीजन माना जाता है। तब बड़ी संख्या में विदेशी और साथ ही घरेलू पर्यटक केरल में आते हैं। इससे पहले भी जब राज्य में आपदा आई या निपाह वायरस फैला तब अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन सर्किट की चेतावनी वाली रिपोर्ट्स ने भी पर्यटकों को केरल से दूर किया। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बढ़ा-चढ़ाकर दिखाई जा रही रिपोर्टों के खिलाफ जागरूकता पैदा करके इस समस्या को दूर करना है।

यह भी पढ़ें : चीन में फैले कोरोना वायरस से अबतक 56 लोगों की मौत, कितना चिंतिंत है भारत?

भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की पुष्टि होने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कोरोना वायरस को लेकर मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की थी। कैबिनेट सचिव ने भी इसे लेकर स्वास्थ्य, नागरिक उड्ड्यन, टेक्स्टाइल और फार्मा सचिवों के साथ उच्चस्तरीय बैठक की है।

स बीच एयर इंडिया की स्पेशल फ़्लाइट से रविवार 2 फरवरी को 323 भारतीयों और सात मालदीव के लोगों को चीन के वुहान शहर से भारत लाया गया और इनमें बड़ी संख्या में वुहान में पढ़ रहे भारतीय छात्र थे।

केरल में सबसे पहले 1 फरवरी को सरकार ने एक महिला के कोरोना वायरस से पीड़ित होने की पुष्टि की थी। इसके बाद दो अन्य मामले सामने आय हैं। कोरोना वायरस प्रभावित महिला समेत तीनों लोग हाल ही में चीन से लौटे थे।

संबंधित खबर : एक डॉक्टर के लालच ने 46 लोगों को कर दिया एचआईवी संक्रमित

गौरतलब है कि कोरोना वायरस को लेकर केरल में लगभग 2 हजार लोगों को निगरानी में रखा गया है। दर्जनों लोगों को केरल में अलग-अलग अस्पताल में जांच के लिए भेजा जा रहा है।

हालांकि हमारे देश में कोरोना वायरस को लेकर तमाम अफवाहें फैलायी जा रही हैं, जिन्हें लेकर अब सरकार ने सतर्कता बरतनी शुरू कर दी है।

रकार ने दिल्ली समेत देश के सात हवाई अड्डों पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की है, ताकि अगर चीन या हॉन्ग कॉन्ग से लौटे किसी शख़्स में संक्रमण का असर दिखा तो उसकी तुरंत जांच कराई जा सके।

Next Story

विविध

Share it