Top
राजनीति

बीजेपी आइटी सेल ने रची थी उदित राज को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने के अभियान की साजिश

Janjwar Desk
14 Sep 2020 6:23 AM GMT
बीजेपी आइटी सेल ने रची थी उदित राज को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने के अभियान की साजिश
x
उदित राज ने इंटरव्यू व ट्वीट के जरिए भाजपा आइटी सेल पर खुद के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया है और कहा है कि कांग्रेस नेतृत्व से उनकी दूरियां बढाने के लिए यह सब किया जा रहा है...

जनज्वार। पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर यह अभियान चलाया जा रहा है कि दलित नेता व पूर्व सांसद उदित राज को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाए। कांग्रेस में इन दिनों सोनिया गांधी के बाद अगले अध्यक्ष को लेकर मंथन का दौरा जारी है और इस पद के लिए एक बार फिर राहुल गांधी के नाम को अधिकतर पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं द्वारा आगे बढाया जा रहा है। ऐसे में उदित राज ने खुद के नाम को पार्टी के शीर्ष पद के लिए उछाले जाने को साजिश बताया है।


पिछले दो सप्ताह से ट्विटर व अन्य सोशल मीडिया माध्यमों पर उदित राज फाॅर कांग्रेस प्रेसिडेंट हैशटैग चलाया जा रहा है। कई लोगों ने अपने ट्विटर एकाउंट पर कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए उदित राज बनाम राहुल गांधी के नाम पर पोल भी आयोजित किया। साथ ही उदित राज के पक्ष में और राहुल गांधी के पक्ष में लोगों ने ट्वीट किया।



इस मामले में उदित राज ने एक इंटरव्यू में कहा है कि यह भाजपा आइटी सेल की साजिश का नतीजा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व व उनके बीच दरार पैदा करने के लिए भाजपा आइटी सेल वालों ने मेरे नाम पर दो सप्ताह पहले हैशटैग चलाने की साजिश रची। उदित राज ने कहा है कि उनके समर्थक इस तरह का घिनौना कार्य नहीं कर सकते हैं और वे इसके पीछे नहीं हैं।



आउटलुक मैगजीन से बातचीत में उदित राज ने कहा, उन्हें बीजेपी आइटी सेल को काउंटर करना मुश्किल है, क्योंकि वे नकली आइडी से ऐसा करते हैं। मेरे समर्थकों ने पाया कि भाजपा आइटी सेल के लिए काम करने वाले हजारों लोग इस कोशिश में लगे रहते हैं कि वे मुझे व मतभेद रखने वाले अन्य प्रभावशाली नेताओं के लिए लगातार अपशब्दों का प्रयोग करते रहें। उन्होंने कहा है कि मास सपोर्ट बेस होने की वजह से बीजेपी आइटी सेल की टाॅप लिस्ट में उनका नाम है।

उदित राज ने कहा है कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की विभिन्न मुद्दों पर आलोचना करते हैं। ऐसा करने वाले वे कुछ चुनिंदा नेताओं में हैं। उन्होंने कहा है कि महामारी, बेरोजगारी, निजीकरण, आरक्षण व चीन से तनाव के मुद्दे पर वे सरकार को एक्सपोज करते रहे हैं, इसलिए वे लोग उनके व कांग्रेस हाइकमान के बीच दरार पैदा करना चाहते हैं।


उदित राज का दावा है कि कुछ महीने पूर्व भाजपा ने उन्हें पार्टी में वापस आने और इसके बदले राज्यसभा की सीट देने की पेशकश की थी, लेकिन अब उनके भाजपा में जाने का सवाल ही नहीं उठता है।

उदित राज को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने को लेकर कांग्रेस के एक प्राउडी एकाउंट से ट्विटर पर अधिसूचना भी जारी कर दी गई।


Next Story

विविध

Share it