राजनीति

Congress Income : कांग्रेस की आय में भारी गिरावट, पहले के मुकाबले 58 प्रतिशत कम मिली धनराशि, जदयू की आय तीन गुना बढ़ी

Janjwar Desk
9 April 2022 12:30 PM GMT
Congress Income : कांग्रेस की आय में भारी गिरावट, पहले के मुकाबले 58 प्रतिशत कम मिली धनराशि, जदयू की आय तीन गुना बढ़ी
x

Congress Income : कांग्रेस की आय में भारी गिरावट, पहले के मुकाबले 58 प्रतिशत कम मिली धनराशि, जदयू की आय तीन गुना बढ़ी

Congress Income : कांग्रेस की ऑडिट रिपोर्ट के मुताबिक पार्टी की आय का एक बड़ा हिस्सा कूपन जारी करने से आया है, पार्टी के मुताबिक उसे कूपन के जरिए 156.9 करोड़ रुपये मिले हैं.....

Congress Income : कांग्रेस पार्टी ने चुनाव आयोग को सौंपी अपनी ऑडिट रिपोर्ट (Audit Report) में बताया है कि उसे वर्ष 2020-21 में पहले के मुकाबले 58 फीसदी कम धनराशि मिली है। पार्टी ने ऑडिट रिपोर्ट में बताया है कि उसके पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले कांग्रेस (Congress) की आय 682.2 करोड़ रुपये से घटकर 285.7 करोड़ हो गई। जबकि भाजपा की सहयोगी पार्टी जदयू (JDU) को पहले के मुकाबले अधिक चंदा मिला है।

यह ऑडिट रिपोर्ट 30 मार्च को चुनाव आयोग (ECI) सौंपी गई। रिपोर्ट से पता चला है कि 2020-21 में कांग्रेस पार्टी का खर्च पिछले वित्तीय वर्ष (2019) की तुलना में 998.15 करोड़ रुपये से घटकर 209 करोड़ रुपये हो गया। वित्त वर्ष 2018-19 में कांग्रेस की आय 918 करोड़ रुपये थी। उसके बाद से इसमें लगातार गिरावट जारी है।

कांग्रेस की ऑडिट रिपोर्ट के मुताबिक पार्टी की आय का एक बड़ा हिस्सा कूपन जारी करने से आया है। पार्टी के मुताबिक उसे कूपन के जरिए 156.9 करोड़ रुपये मिले हैं। वहीं अनुदान और दान के माध्यम से पार्टी को 95.4 करोड़ रुपये मिले हैं जबकि 20.7 करोड़ रुपये शुल्क और सदस्यता से आए हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और जदयू समेत अन्य दलों ने भी अपनी ऑडिट रिपोर्ट चुनाव आयोग को सौंपी है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की आय वित्त वर्ष 2020 में 85.5 करोड़ रुपये से घटकर वित्त वर्ष 2021 में 34.9 करोड़ रुपये हो गई। पार्टी का खर्च भी पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 109.18 करोड़ रुपये से गिरकर 2020-21 में 12.17 करोड़ रुपये हो गया है। जबकि जदयू की आय वित्त वर्ष 2020 के मुकाबले 2021 में बढ़ी है। पार्टी की वार्षिक आय 23.25 करोड़ रुपये से बढ़कर 65.31 करोड़ रुपये हो गई। इस दौरान पार्टी का खर्च भी 10.67 करोड़ रुपये से बढ़कर 24.34 करोड़ रुपये हो गया है।

प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट के योगदान में नौ प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई। बता दें कि प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट राजनीतिक दलों के सबसे बड़े दानकर्ताओं में से एक है। प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने वित्त वर्ष 2021 में 245.7 करोड़ रुपये का दान किया जबकि वित्त 20 में 271 करोड़ रुपये का दान दिया था। कांग्रेस को प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने वित्त वर्ष 2020 में 31 करोड़ का चंदा दिया था जबकि 2021 में महज 2 करोड़ का चंदा दिया।

Next Story

विविध