Top
राजनीति

मोदी सरकार ने देश की ओर उछाला नया 'जुमला', 2022 तक गरीबी और भ्रष्टाचार मुक्त करने का दावा

Janjwar Desk
31 July 2020 3:30 AM GMT
मोदी सरकार ने देश की ओर उछाला नया

पीएम मोदी ने पिछले वर्ष कहा था कि 2022 में आजादी की 75वीं वर्षगांठ का जश्न न्यू इंडिया का सपना पूरा कर अनोखे अंदाज में मनाएंगे, इस दिशा में ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से 2024 तक के लिए तैयार विजन डाक्यूमेंट में कई बड़े लक्ष्यों का जिक्र है....

नई दिल्ली। वर्ष 2022 में देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ को खास बनाने के लिए मोदी सरकार कई बड़े लक्ष्य लेकर चल रही है। मोदी सरकार की ओर से तैयार विजन डाक्यूमेंट की मानें तो 2022 में न्यू इंडिया का सपना साकार होगा। इस वर्ष तक भारत को गरीबी और भ्रष्टाचार मुक्त बनाने की तैयारी है। मोदी सरकार ने समावेशी, निरंतर और सतत विकास के जरिए देश की जनता को गरीबी के दलदल से निकालने का लक्ष्य तैयार किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले वर्ष कहा था कि 2022 में आजादी की 75वीं वर्षगांठ का जश्न न्यू इंडिया का सपना पूरा कर अनोखे अंदाज में मनाएंगे। इस दिशा में ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से 2024 तक के लिए तैयार विजन डाक्यूमेंट में कई बड़े लक्ष्यों का जिक्र है।

विजन डाक्यूमेंट के न्यू इंडिया स्ट्रेटजी कॉलम के मुताबिक, वर्ष 2022 तक गरीबी उन्मूलन का मोदी सरकार ने बड़ा लक्ष्य तय किया है। नीति आयोग और ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से तैयार विजन डाक्यूमेंट में कहा गया है कि भारत, गरीबी की समस्या का समाधान ढूंढने में सफल हुआ है।

न्यू इंडिया 2022 की रणनीति के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लक्ष्य, विकास की चुनौतियों की पहचान करते हुए सभी सेक्टर के संतुलित विकास का है। सरकार इंक्लूसिव डेवलपमेंट यानी समावेशी विकास पर जोर दे रही है। ग्रामीण एरिया के विकास पर खास ध्यान है। गरीबी कम करना मुख्य उद्देश्य है। 2022 तक सबको घर दिया जाएगा। गांवों में बिजली, पीने का पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि सेक्टर को मजबूत कर गरीबी उन्मूलन किया जाएगा। आर्थिक और सामाजिक विकास पर खासा ध्यान दिया जाएगा।

विजन डाक्यूमेंट में कहा गया है कि गांवों में मूलभूत जरूरतों की पहचान होगी। रहन-सहन को सुधारने के लिए सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। ग्रामीण आधारभूत संसाधनों का विकास कर रोजगार बढ़ाने पर फोकस होगा। महिलाओं का सशक्तीकरण होगा। गांवों में ट्रेनिंग और कैपेसिटी डेवपलमेंट प्रोग्राम संचालित होंगे। विजन डाक्यूमेंट में दीन दयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा, स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम, श्यामा प्रसाद मुखर्जी र्बन मिशन, नेशनल सोशल असिस्टेंस प्रोग्राम जैसे कार्यक्रमों के जरिए ग्रामीणों का रहन-सहन 2022 तक बदलने की तैयारी है।

ग्रामीण विकास मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि न्यू इंडिया 2022 के मिशन के तहत करीब एक दर्जन लक्ष्यों पर फोकस कर काम चल रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा, स्किल डेवलपमेंट, बैंक क्रेडिट, जल संरक्षण, स्वास्थ्य और पोषण, बिजली, आवास, ओडीएफ, कचड़ा निस्तारण, सड़क, इंटरनेट, एलपीजी, डीबीटी, बुजुर्गो, विधवाओं, दिव्यांगों का सामाजिक संरक्षण, खेल, युवा क्लब, गैर कृषि आजीविका आदि सेक्टर पर सरकार का फोकस है।

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने विजन डाक्यूमेंट में कहा है, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का न्यू इंडिया 2022 के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए मंत्रालय समर्पित है। कृषि और गैर कृषि क्षेत्र में आजीविका के अवसरों को पैदा करने, सड़क संपर्क को बेहतर करने, सप्लाई चेन, सभी को घर, बिजली, शिक्षा, माइक्रो इंटरप्राइजेज के जरिए ग्रामीण भारत का आर्थिक विकास करने का लक्ष्य है। विजन डाक्यूमेंट ग्रामीण भारत के विकास के लक्ष्य प्रदर्शित करता है।'

Next Story
Share it