राजनीति

Political News : 'चोर हैं राजपूत और ब्राह्मण, नहीं चाहिए इनका वोट', सपा विधायक के बयान से मचा बवाल

Janjwar Desk
30 Sep 2021 9:28 AM GMT
Political News : चोर हैं राजपूत और ब्राह्मण, नहीं चाहिए इनका वोट, सपा विधायक के बयान से मचा बवाल
x

(अबरार अहमद के बयान ने यूपी चुनाव से पहले सपा की बढ़ायी मुश्किलें)

Political News : अबरार ने कथित तौर पर कहा किहमारे वास्तविक वोटर मुसलमान ही हैं।

Political News जनज्वार। उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर (Sultanpur) के इसौली से विधायक अबरार अहमद (Abrar Ahmed) का एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है जिसमें वह राजपूत और ब्राह्मण जातियों के खिलाफ कथित तौर पर अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं। विधायक (SP MLA) ने मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत के दौरान यह बयान दिया है, जिसके बाद से यूपी की सियासत में बवाल मचा हुआ है। अबरार अहमद को वायरल वीडियो में ये कहते सुना जा सकता है कि राजपूत और ब्राह्मण चोट्टे होते हैं, उनके वोट की जरूरत नहीं है। राजपूत और ब्राह्मण के बिना चुनाव जीत सकते हैं।

अबरार (Abrar Ahmed) आगे कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि हमारे वास्तविक वोटर मुसलमान (Muslims) ही हैं। उनका यह बयान ऐसे समय में आया है जब आगामी वर्ष 2022 में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) होने वाले हैं। प्रत्येक पार्टियां ब्राह्मण कार्ड (Brahmin Card) खेल रही हैं। हर पार्टी ब्राह्मण वोटर्स को लुभाना चाहती हैं, चाहे वह बसपा हो या सपा या फिर भाजपा। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) भी सूबे में ब्राह्मणों को लुभाने के लिये प्रबुद्ध ब्राह्मण सम्मेलन आयोजित करवा रहे हैं। उन्होंने लखनऊ में भगवान पशुराम (Lord Parshurama) की सबसे ऊंची मूर्ति (Statue) स्थापित कराने का वादा किया है।

अबरार अहमद के विवादित बयान (Controversial Statement) के बाद राजपूत और ब्राह्मणों के तमाम संगठन सड़कों पर उतर गए हैं। भाजपा नेता ओम प्रकाश (Om Prakash) ने पुलिस में अबरार अहमद के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करायी है। फिलहाल उत्तरप्रदेश पुलिस (UP Police) ने अबरार अहमद के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। वायरल वीडियो के बाद सूबे की पार्टियों ने एक दूसरे पर बयानबाजियां शुरू कर दी हैं। चुनावी समय में भाजपा (BJP) ऐसा मौका बिल्कुल छोड़ने के मूड में नहीं है।

अबरार अहमद के विवादित बयान पर योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर (Anil Rajbhar) ने कहा कि ये सपा की मानिसकता को दर्शाता है, सपा हमेशा से समाज को तोड़ने का काम करती है और विधायक का बयान यही दिखाता है।

विवादों से पुराना नाता

हालांकि यह पहला मौका नहीं है जब अबरार अहमद इस तरह की बयानबाजी कर रहे हों। इससे पहले भी उन्होंने भाजपा की जिला पंचायत अध्यक्ष उषा सिंह (Usha Singh) के खिलाफ भी बदजुबानी की थी। जिसके बाद लोगों ने विधानसभा के सामने उनका पुतला फूंका था। इसके अलावा वह सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के खिलाफ भी विवादित बयान दे चुके हैं।

अबरार खान को आजम खान का सबसे खास आदमी माना जाता है। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में अबरार अहमद ने चुनाव आयोग को भी धमकी दे डाली थी कि अगर आजम खान के ऊपर लगायी गई पाबंदी को नहीं हटाया जाता तो वह भूख हड़ताल करेंगे। फिलहाल राजपूतों और ब्राह्मणों के खिलाफ बयानबाजी कर उन्होंने सपा के लिए मुश्किलें बढ़ा दीं हैं।

सोशल मीडिया पर रिएक्शन

भाजपा के प्रदेश मंत्री संजय राज ने वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा, 'ये देखिए...MY की सियासत करने वाली टोपीबाज पार्टी के विधायक अबरार अहमद ब्राह्मण और क्षत्रिय समाज को गाली देकर अपमानित कर रहे हैं। इस बयान पर अखिलेश जी चुप हैं, क्योंकि मुस्लिम समाज नाराज हो जाएगा। इसलिए अबरार अहमद को जहर उगलने का लाइसेंस दे दिया है। यही समाजवाद का असली चेहरा है।'

उत्तर प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष संतोष सिंह ने भी ट्वीट किया, 'सपा विधायक अबरार अहमद का बता रहे क़ि चोर हैं छत्रिय और ब्राह्मण ,नहीं चाहिए इनका वोट, यही है इनकी असली मानसिकता।'


Next Story

विविध

Share it