राजनीति

रजनीकांत में स्वास्थ्य कारणों से राजनीति में नहीं जाने व पार्टी लांच नहीं करने का किया ऐलान

Janjwar Desk
29 Dec 2020 7:42 AM GMT
रजनीकांत में स्वास्थ्य कारणों से राजनीति में नहीं जाने व पार्टी लांच नहीं करने का किया ऐलान
x
राजनीकांत ने मंगलवार को जारी अपने बयान में कहा है कि बीते दिनों उनकी तबीयत में जो गिरावट आयी है, वह इसे भगवान की चेतावनी मानते हैं और राजनीतिक पार्टी बनाने का फैसला करते हैं।

जनज्वार। दक्षिण के फिल्मी सुपरस्टार राजनीतिकांत स्वस्थ हो गए हैं और उन्होंने इसको लेकर एक बयान जारी कर कहा है कि वे आम लोगों के लिए काम करना जारी रखेंगे। इसके साथ ही उन्होंने यह बड़ा ऐलान किया है कि वे अब राजनीतिक पार्टी नहीं शुरू करेंगे और न ही राजनीति में प्रवेश करेंगे। 70 वर्षीय अभिनेता को एक दिन पहले ही अस्पताल से छुट्टी मिली है और डाॅक्टरों ने उन्हें बेड रेस्ट करने की सलाह दी है।

दक्षिण के फिल्मी सुपरस्टार राजनीतिकांत स्वस्थ हो गए हैं और उन्होंने इसको लेकर एक बयान जारी कर कहा है कि वे आम लोगों के लिए काम करना जारी रखेंगे। इसके साथ ही उन्होंने यह बड़ा ऐलान किया है कि वे अब राजनीतिक पार्टी नहीं शुरू करेंगे और न ही राजनीति में प्रवेश करेंगे। 70 वर्षीय अभिनेता को एक दिन पहले ही अस्पताल से छुट्टी मिली है और डाॅक्टरों ने उन्हें बेड रेस्ट करने की सलाह दी है।

रजनीतिकांत ने कहा है कि बीमारी ने उन्हें बहुत कुछ सीखा दिया है। यह माना जा रहा था कि इस साल गर्मियों में होने जा रहे तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में राजनीतिकांत कोई बड़ी उलट-फेर कर सकते हैं। उन्होंने खुद लगातार यह संकेत दिया था कि वे चुनाव से पहले अपनी राजनीतिक पार्टी शुरू करेंगे और सक्रिय राजनीति में भाग लेंगे। इससे पहले भाजपा से उनकी निकटता की चर्चा उठी थी। चेन्नई दौरे के दौरान कई भाजपा नेताओं ने उनसे मुलाकात की थी, हालांकि इसके राजनीतिक मायने नहीं निकालने की बात भी कही गयी।

राजनीकांत ने मंगलवार को जारी अपने बयान में कहा है कि बीते दिनों उनकी तबीयत में जो गिरावट आयी है, वह इसे भगवान की चेतावनी मानते हैं और राजनीतिक पार्टी बनाने का फैसला करते हैं। रजनीकांत ने कहा है कि वो ऐसा नहीं चाहते हैं कि लोग यह समझें कि उन्हें बलि का बकरा बना दिया गया है। इससे पहले उन्होंने कहा था कि वे एक जनवरी 2021 को अपनी राजनीतिक पार्टी लांच करेंगे और 31 दिसंबर को इसकी घोषणा की जाएगी।

राजनीतिकांत की तबीयत पिछले दिनों हैदराबाद में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान खराब हुई थी और इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इससे पहले वे कोरोना संक्रमित हुए थे, हालांकि बाद में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आयी थी।

तमिलनाडु की राजनीति में जयललिता व करुणानिधि जैसे बड़े चेहरे अब नहीं हैं। राज्य में जयललिता की पार्टी का नेतृत्व अन्नाद्रमुक के विभिन्न गुट आपसी समन्वय व समझौते से कर रहे हैं और उनके सामने शशिकला की चुनौती है। वहीं, करुणानिधि की पार्टी डीएमके का नेतृत्व उनके छोटे एमके स्टालिन कर रहे हैं, जिनके सामने उनके भाई अझागिरि की चुनौती है।

ऐसे में दक्षिण भारत के दो बड़े फिल्मी स्टार कमल हासन व रजनीकांत के राजनीति में प्रवेश को बड़ी परिघटना माना जा था। कमल हासन जहां अपनी पार्टी बनाकर सक्रिय हैं, वहीं रजनीकांत ऐसा करने वाले थे। इससे पहले तबीयत खराब होने के बाद उन्होंने राजनीति से दूरी बनाए रखने का ऐलान किया है।

Next Story

विविध

Share it