Top
राजनीति

कंगना रनौत विवाद की असलियत आई सामने, मां कांग्रेस छोड़ बोलीं अब हम पूरी तरह हुए भाजपा के

Janjwar Desk
11 Sep 2020 5:53 AM GMT
कंगना रनौत विवाद की असलियत आई सामने, मां कांग्रेस छोड़ बोलीं अब हम पूरी तरह हुए भाजपा के
x
भारतीय जनता पार्टी से जुड़ने के बाद आशा रनौत ने कहा कि कंगना रनौत के साथ जो हुआ, उसके बाद मुझे BJP में आना ही पड़ा। इसी के साथ आशा रनौत ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का धन्यवाद किया...

जनज्वार। कंगना—शिवसेना कंट्रोवर्सी के बाद जैसे कि कयास लगाये जा रहे थे वो सही हो रहे हैं। कहा जा रहा था कि कंगना बिहार में भाजपा की स्टार प्रचारक के तौर पर उतरेंगी, हालांकि इसकी तो आधिकारिक घोषणा नहीं हुई, मगर कंगना की मां जरूर कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गयी हैं।

कंगना की मां आशा रनौत कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में शामिल हुई हैं। भारतीय जनता पार्टी से जुड़ने के बाद आशा रनौत ने कहा कि कंगना रनौत के साथ जो हुआ, उसके बाद मुझे भाजपा में आना ही पड़ा। इसी के साथ आशा रनौत ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का धन्यवाद किया है।

गौरतलब है कि मुंबई में कंगना के दफ्तर पर बीएमसी (BMC) की कार्रवाई के बाद उनकी मां आशा रनौत ने शिवसेना पर निशाना साधते हुए कहा था कि उद्धव ठाकरे आपने आज मेरी बेटी कंगना के ऑफिस पर नहीं, बल्कि अपने पिता बालासाहेब ठाकरे की आत्मा पर घाव किया है।

कंगना रनौत की मां आशा रनौत ने मीडिया से कहा मेरा परिवार कांग्रेस की विचारधार से जुड़ा रहा है, लेकिन आज जब कंगना रनौत पर विपदा आई और महाराष्ट्र सरकार ने इस प्रकार की हरकत की तो केंद्र में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली और प्रदेश में जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार उनकी मदद के लिए खड़ी हुई। बीजेपी की सरकार ने मेरी बेटी को सुरक्षा मुहैया करवाई, इसके लिए पीएम मोदी, अमित शाह और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का आभार।

आशा रनौत ने भाजपा ज्वाइन करते हुए कहा, मैं देश के गृह मंत्री अमित शाह का धन्यवाद करती हूं जिन्होंने मेरी बेटी को सुरक्षा प्रदान करवायी। अगर आज उसे सुरक्षा नहीं मिली होती तो उसके साथ कुछ भी हो सकता था।

कंगना की मां ने आगे कहा, हमारा परिवार लंबे समय से कांग्रेस में ही था, कंगना के दादा स्वर्गीय सरजू राम मंडी के गोपालपुर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक रह चुके हैं। अब मोदी सरकार ने हमारा दिल जीत लिया है। अभिनेत्री की मां ने आगे कहा कि अब हम पूरी तरह से भाजपा के हो गए हैं।

गौरतलब है कि कंगना—शिवसेना कंट्रोवर्सी के बाद मोदी के केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कंगना से मुलाकात की और कहा कि अगर वह भाजपा या आरपीआई में शामिल होती हैं, तो हम उनका स्वागत करेंगे। केंद्रीय मंत्री ने अठावले ने कहा, अभिनेत्री कंगना रनौत से एक घंटे तक बात की। मैंने उनको बताया कि आपको मुंबई में डरने की जरूरत नहीं है। मुंबई शिवसेना की भी है, BJP की है, कांग्रेस की है। मुंबई सभी धर्म, जाति और भाषाओं के लोगों की है, यहां सबको रहने का अधिकार है।

गौरतलब है कि कंगना रनौत भी खुद का दफ्तर ढहाये जाने के बाद शिवसेना पर हमलावर हुई थीं। उन्होंने एक वीडियो जारी कर कहा था, 'उद्धव ठाकरे तू क्या समझता है कि तुमने फिल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर बहुत अच्छा काम किया है। आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा, ये वक्त का पहिया है याद रखना। हमेशा एक जैसा नहीं रहता है।'

कंगना ने यह भी कहा, अब मुझे लगता है कि तुमने मेरे ऊपर बड़ा एहसान किया है, क्योंकि मुझे पता था कि कश्मीरी पंडितों पर क्या बीतती होगी। आज मैंने महसूस किया और मैं देश को वचन दूती हूं कि मैं सिर्फ अयोध्या पर ही नहीं, बल्कि कश्मीर पर भी एक फिल्म बनाऊंगी और अपने देशवासियों को जगाऊंगी।'

कंगना ने कहा उद्धव ठाकरे की ये जो क्रूरता और आतंक है, अच्छा हुआ ये मेरे साथ हुआ, क्योंकि इसके कुछ मायने हैं। ट्वीट लिखकर भी कंगना ने कहा था, तुमने जो किया अच्छा किया।

Next Story

विविध

Share it