Top
राजनीति

आज तक की श्वेता सिंह चीनी हमले के लिए सेना को दोषी ठहराने पर हुईं ट्रोल, लोग बोले मोदी का बचाव ऐसे शेम आन यू

Janjwar Desk
17 Jun 2020 5:36 AM GMT
आज तक की श्वेता सिंह चीनी हमले के लिए सेना को दोषी ठहराने पर हुईं ट्रोल, लोग बोले मोदी का बचाव ऐसे शेम आन यू
x
photo : aaj tak
ट्वीटर पर ट्रेंड कर रहा शेम आन यू श्वेता सिंह, कहा था सैनिक अपनी गलतियों के कारण मारे जाते हैं। लोग बोले हमारी सेना के लिए ऐसे शब्द बोलने पर तुम पर शर्म आती है श्वेता सिंह...

जनज्वार। गोदी मीडिया मोदी और उनकी सरकार का पक्ष में किस हद तक तर्क दे सकती है, इसका ताजा उदाहरण हैं आजतक की श्वेता सिंह। कल 16 जून को चीनी सेना के हमले में 20 से भी ज्यादा भारतीय सैनिक शहीद हुए हैं और श्वेता सिंह कहती हैं कि अगर चीनी सेना हमारे देश में घुस आयी है तो इसके लिए मोदी सरकार जिम्मेदार नहीं है, बल्कि सेना जिम्मेदार है।

श्वेता सिंह ने इसके लिए मोदी सरकार के बजाय सेना को ही कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि हमारे देश में चीनी सैनिकों का घुसना सेना पर ही सवाल उठाता है, क्योंकि पेट्रोलिंग की ड्यूटी सरकार की नहीं सेना की होती है।

मोदी सरकार को बचाव करते हुए श्वेता कहती हैं, हमारे देश में सेना तो छोड़िये अर्धसैनिक बल भी इतने आजाद हैं कि उन्हें ऐसे मामलों में अपने किसी पॉलिटिकल मास्टर से कमांड नहीं लेते हैं। सवाल उठ रहे हैं कि चीन ने हमारी जमीन हड़प ली है तो यह फिर सेना पर सवाल उठाता है। श्वेता सिंह की मानें तो चीन अगर हम पर हावी हुआ है तो उसके लिए मोदी सरकार नहीं बल्कि सेना जिम्मेदार है क्योंकि वह अपनी ड्यूटी मुस्तैदी से नहीं कर रही है।

श्वेता सिंह की इस रिपोर्ट के बाद वो सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रही हैं। अजीत पटेल ने ट्वीट किया है, अब तक की सबसे खराब पत्रकारों में से एक स्वेता सिंह।

वह हमारे राष्ट्र के लिए खतरनाक है।'

Lachesis ट्वीटर हैंडल ने ट्वीट किया है, श्वेता सिंह ने सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय दिया... लेकिन जब जिम्मेदारी लेने की बात आती है तो वे सेना को दोषी ठहरा रही हैं और सरकार को पूछताछ से बचाने की कोशिश कर रही हैं।

कई लोगों ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि वह मोदी के पक्ष में किसी हद तक जा सकती हैं, तलवे चाट सकती हैं।

देख तमाशा डेमोक्रेसी का ने ट्वीट किया है, श्वेतासिंह हमेशा देश के प्रति वफादार रही, नीयत से नहीं, सच्चाई से नहीं, बल्कि सरकार के प्रति।

सेहर शिनवारी कहती हैं, 'भाजपा समर्थक पत्रकार श्वेतासिंह द्वारा उठाए गए सवाल अब स्पष्ट रूप से चीन और भारत के बीच इस गतिरोध को इंगित कर रहे हैं जो भारत को एक नागरिक सैन्य संघर्ष और आंतरिक अशांति की तरफ धकेलेंगे।

राजेश एसपी ने ट्वीट किया है, इन दोगलों को हमारे जवानों की जान से ज्यादा मोदी की इमेज़ की फ़िक्र है। इसी ने चार रोज़ पहले बताया था कि चीनी सेना वापस चली गई, जबकि चीनी सेना वापस नही गई बल्कि 1 माह से लद्दाख में डेरा डाले हुए है, लेकिन मोदी सरकार को देश से ज्यादा बिहार बंगाल की सत्ता की चिंता है। सेना पर ठीकरा।

शेषांस कुमार ने लिखा है, श्वेता के अनुसार सैनिक अपनी गलतियों के कारण मारे जाते हैं। वाह, हमारी सेना के लिए ऐसे अच्छे शब्द!! सेम आन यू श्वेता सिंह।

अनिरूद्ध सिंह ने ट्वीट किया है, आपको शर्म आनी चाहिए श्वेता सिंह और आजतक, सेना के 20 जवान मारे गए और आप अभी भी सेना पर आरोप लगाते हुए मोदी सरकार का बचाव कर रहे हैं। सेना पर आरोप लगाते हुए आप फेक और सनसनीखेज पत्रकारिता के विशेषज्ञ लगते हैं।


Next Story

विविध

Share it