राजनीति

UP Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा बीजेपी को करेंगे नेस्तनाबूद तो बेटी संघमित्रा ने किया दावा - यूपी में बनेगी भाजपा की सरकार

Janjwar Desk
15 Jan 2022 11:22 AM GMT
UP Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा बीजेपी को करेंगे नेस्तनाबूद तो बेटी संघमित्रा ने किया दावा - यूपी में बनेगी भाजपा की सरकार
x

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा बीजेपी को करेंगे नेस्तनाबूद तो बेटी संघमित्रा ने किया दावा - यूपी में बनेगी भाजपा की सरकार

UP Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी को उखाड़ फेकेंगे लेकिन उनकी बेटी और बदायूं से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी...

UP Election 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव कि सियासत गर्माती ही जा रही है। इन दिनों दलबदल का दौर तेजी से चल रहा है। भाजपा को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ कैबिनेट से स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीजेपी पर दलितों और पिछले जाति की अनदेखी का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया था। योगी कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने शुक्रवार 14 जनवरी को समाजवादी पार्टी जॉइन कर ली है। समाजवादी पार्टी में शामिल होने के दौरान स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी को उखाड़ फेकेंगे लेकिन उनकी बेटी और बदायूं से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी।

उत्तर प्रदेश में बनेगी भाजपा की सरकार

बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी संघमित्रा मौर्य बदायूं से भाजपा सांसद है। संघमित्रा मौर्य ने एक समाचार चैनल इंडिया टीवी से बात करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी लड़ाई में जरूर होगी लेकिन सरकार भाजपा की ही बनेगी। वैसे यह जनता तय करेगी। जनता जिस को उचित समझे कि उसे अपना वोट देगी और उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने का न्योता भी देगी। साथ ही संघमित्रा मौर्य ने कहा कि यदि पार्टी मुझे पिता और भाई के खिलाफ चुनाव करने के लिए कहेगी तो मैं निश्चित तौर पर जाऊंगी और नहीं करना होगा तो मना कर दूंगी।

स्वामी प्रसाद के साथ है जनाधार

बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने योगी कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद बयान देते हुए कहा था कि भाजपा 47 सीट पर सिमट जाएगी। स्वामी प्रसाद मौर्य के इस बयान पर भाजपा सांसद संघमित्रा ने कहा है कि उनका दावा इसलिए है क्योंकि उन्होंने हमेशा दलितों, पिछड़ों और शोषितों के लिए राजनीति की हैं। धरातल पर काम करने की वजह से उनके पास जनाधार है और वे जहां जाते हैं, वहां उनका जनाधार चल पड़ता है।

80 और 20 के नारे पर भारी पड़ेगा 15 और 85

बता दें कि शुक्रवार 14 जनवरी को स्वामी प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी का हाथ थामा है। समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि बीजेपी ने दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों की आंखों में धूल झोंक कर सत्ता पाई थीं। केशव मौर्य और स्वामी प्रसाद मौर्य का नाम छोड़कर पिछड़ों के बलबूते पर सरकार बनाई थी लेकिन बाद में गोरखपुर में लाकर बिठा दिया। साथ थी स्वामी प्रसाद मौर्य ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि वह 80 और 20 का नारा दे रहे हैं। यह 80 और 20 नहीं होगा। अब तो 15 और 85 का होगा। साथ स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि 85 तो हमारा है 15 में भी बंटवारा है।

बीजेपी को करेंगे नेस्तनाबूद

बता दें कि इसके अलावा स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने पार्टी भले ना बनाई हो, पर किसी पार्टी से हैसियत से कम नहीं रखते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि हमने अखिलेश यादव से हाथ इसलिए मिलाया है, क्योंकि वो नौजवान हैं, पढ़े लिखे हैं और नई उर्जा हैं। हम बीजेपी को नेस्तनाबूद करेंगे| साथ ही स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि हम जिसका साथ छोड़ते हैं, उसका कहीं अता-पता नहीं रहता है। मायावती इसकी मिसाल हैं।

Next Story

विविध

Share it