राजनीति

Uproar over EVM in HP : हिमाचल में कांग्रेस ने स्ट्रांग-रूम के बाहर गाड़े तंबू, 24 घंटे खुद निगरानी कर रहे नेता

Janjwar Desk
20 Nov 2022 12:38 PM GMT
Uproar over EVM in HP : हिमाचल में कांग्रेस ने स्ट्रांग-रूम के बाहर गाड़े तंबू, 24 घंटे खुद निगरानी कर रहे नेता
x

Uproar over EVM in HP : हिमाचल में कांग्रेस ने स्ट्रांग-रूम के बाहर गाड़े तंबू, 24 घंटे खुद निगरानी कर रहे नेता

Uproar over EVM in HP : कांग्रेस पार्टी ने ईवीएम सुरक्षा को लेकर धर्मपुर, किन्नौर, पांवटा साहब, घुमारवी, नाचन व गगरेट में तंबू लगा दिए हैं।

Uproar over EVM in HP : उत्तर प्रदेश की तरह अब हिमाचल में भी विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले EVM की सुरक्षा को लेकर नई बहस छिड़ गई है। अब सपा की तरह कांग्रेस ने आधा दर्जन विधानसभा क्षेत्रों में बनाए गए स्ट्रांग-रूम के बाहर तंबू गाड़ दिए हैं। कांग्रेस नेता 24 घंटे स्ट्रांग-रूम के बाहर डेरा डालकर EVM की सुरक्षा की निगरानी कर रहे हैं। ईवीएम की सुरक्षा को लेकर विरोध प्रदर्शन किया और ईवीएम में छेड़खानी के भी आरोप लगाए।

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष नरेश चौहान ने बताया कि पार्टी ने धर्मपुर, किन्नौर, पांवटा साहब, घुमारवी, नाचन व गगरेट में तंबू लगाए है। इसकी वजह जनता और आम वर्कर का EVM पर शक होना है। उन्होंने बताया कि रामपुर में निजी गाड़ी में EVM कैरी करने की घटना के बाद शक ओर गहरा गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने बताया कि पार्टी 24 घंटे स्ट्रांग-रूम की निगरानी कर रही है। इस दौरान देखा जा रहा है कि कौन स्ट्रांग रूम के भीतर जाता है। कौन बाहर आता है।

कांग्रेस ने की फुल प्रूफ सुरक्षा की मांग

कांग्रेस नेता नरेश चौहान ने बताया कि इलेक्शन कमीशन की वजह से तंबू लगाने की नौबत आई है। कमीशन को बताना चाहिए कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा को लेकर क्या इंतजाम है? उन्होंने बताया कि दावे थ्री-लेयर सुरक्षा के किए जा रहे है। यह सुरक्षा कितनी फुल-प्रूफ है, यह कमीशन को बताना चाहिए। उन्होंने बताया कि देश के कई राज्यों में EVM को लेकर समय समय पर चर्चा होती रही है। इससे शक ओर गहरा जाता है। इसलिए इलेक्शन कमीशन को लोगों का विश्वास जीतने की जरूरत है।

इस मामले में धर्मपुर से कांग्रेस प्रत्याशी चंद्रशेखर ने बताया कि जनता को EVM से छेड़छाड़ की आशंका है। इस बात को देखते हुए धर्मपुर कालेज में बने स्ट्रांग-रूम के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तंबू लगा दिया है। मौके पर CCTV कैमरा लगाकर सिक्योरिटी को देखा जा रहा है। उन्होंने बताया कि हमने कभी ऐसा सोचा नहीं था, लेकिन इनकी अलग अलग तरह की प्रैक्टिस की वजह से तंबू लगाने को मजबूर हुए हैं। हिमाचल प्रदेश में हरेक विधानसभा क्षेत्र में स्ट्रांग रूम बनाए गए हैं। इनमें EVM को सील बंद करके रखा गया है। मतदान वाले दिन रामपुर में एक EVM के निजी वाहन में मिलने से कांग्रेस को इनसे छेड़छाड़ की शंका है।

8 दिसंबर को आयेगा चुनाव परिणाम

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए 8 दिसंबर को मतगणना होनी है। यानी अभी मतगणना के 18 दिन है। जाहिर है कि कांग्रेस नेता स्ट्रांग रूम के बाहर से 8 दिसंबर तक डेरा डाले रखेंगे। जबकि इलेक्शन कमीशन का दावा है कि सभी EVM कड़ी सुरक्षा में रखी गई है। इनसे छेड़छाड़ संभव नहीं है। थ्री लेयर सुरक्षा के साथ साथ स्ट्रांग रूम के भीतर व बाहर CCTV लगाकर निगरानी की जा रही है।

कांग्रेस हार से डरी हुई है

इसके उलट भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष गणेश दत्त ने बताया कि कांग्रेस चुनावी नतीजों को लेकर अंदर से डरी हुई है। कांग्रेस को न इलेक्शन कमीशन और न ही सरकारी तंत्र पर विश्वास है, इसलिए हार से बौखलाकर इलेक्शन कमीशन की कार्यप्रणाली पर पार्टी सवाल खड़े कर रही है।

Next Story

विविध