Top
समाज

शहडोल गैंगरेप में भाजपा नेता शामिल, नशे का इंजेक्शन और जबरन शराब पिला दिया वारदात को अंजाम

Janjwar Desk
23 Feb 2021 3:43 AM GMT
शहडोल गैंगरेप में भाजपा नेता शामिल, नशे का इंजेक्शन और जबरन शराब पिला दिया वारदात को अंजाम
x
नृशंस सामूहिक बलात्कार के बाद युवती को बहुत बुरी हालत में आरोपी फेंक गये उसके घर के आगे, फार्महाउस में नशे के इंजेक्शन और जबरन शराब पिलाकर भाजपा नेता विजय त्रिपाठी और उसके साथियों ने की थी लड़की से बर्बरता...

शहडोल, मध्य प्रदेश। मध्य प्रदेश के शहडोल जिले में एक युवती के साथ सामूहिक दरिंदगी का मामला सामने आया है। आरोप भाजपा के नेता सहित चार लोगों पर लगा है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है, मगर गिरफ्तारी किसी की नहीं हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार, "जैतपुर थाने में 18 फरवरी को 20 वर्षीय युवती के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई गई थी। युवती दो दिन बाद घर के दरवाजे पर बेहोशी की हालत में मिली। पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि वह घर से बाहर थी, तभी चार युवक उसे अगवा कर ले गए। उसे दो दिन तक गाड़ाघाट स्थित फार्म हाउस में रखा गया, नशीले इंजेक्शन दिए गए और दुष्कर्म किया गया।"

पीड़िता की शिकायत के आधार पर भाजपा नेता विजय त्रिपाठी सहित शिक्षक राजेश शुक्ला, मुन्ना सिंह और मोनू महाराज के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुकेश वैश्य ने मीडिया को जानकारी दी कि बलात्कार पीड़ित युवती को चार लोगों ने अगवा किया और वे उसे जैतपुर पुलिस थाना क्षेत्र के तहत आने वाले गाड़ाघाट इलाके में एक फार्म हाउस में ले गए, वहां उन्होंने युवती को जबरदस्ती शराब पिलाई और 18-19 फरवरी को उसके साथ जघन्य दुष्कर्म किया।

बकौल पुलिस अधीक्षक आरोपी दुष्कर्म के बाद युवती को 20 फरवरी को उसके घर के सामने गंभीर अवस्था में फेंक कर फरार हो गए। वैश्य ने बताया कि पीड़िता ने रविवार 21 फरवरी को चार लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। युवती की हालत ठीक नहीं होने के कारण उसे पहले जैतपुर स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां से चिकित्सकों ने उसे शहडोल जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

इस बीच, शहडोल जिले के भाजपा अध्यक्ष कमल प्रताप सिंह ने एक बयान जारी कर बताया कि मीडिया द्वारा यह मामला पार्टी के संज्ञान में आया है कि विजय त्रिपाठी, मंडल अध्यक्ष भाजपा जैतपुर के ऊपर जैतपुर में दुष्कर्म के आरोप में मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि ऐसे जघन्य अपराध में शामिल होने वाले एवं ऐसा आचरण करने वाले कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा में कोई स्थान नहीं है।

वहीं पुलिस अधीक्षक अवधेश गोस्वामी ने बताया है कि, "चार आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, मगर गिरफ्तारी किसी की नहीं हुई है। पुलिस आरोपियों की तलाश में है।"

कांग्रेस के मीडिया विभाग के महासचिव के के मिश्रा ने कई मामलों में भाजपा नेताओं की संलिप्तता को लेकर तंज कसा और कहा, "शहडोल में युवती से दुष्कर्म, भाजपा नेता शामिल! इसके नेता तो दूध से धुले होते हैं मामाजी? मंदसौर जिलाध्यक्ष रहे कारूलाल सोनी, संघ कबीले(उज्जैन)के प्रदीप जोशी इसी प्रावीण्य सूची के हैं, इंदौर भाजपा दफ्तर में हुई मेहरबान सिंह की हत्या का राज भी दफन क्यों हुआ था?"

शहडोल जिले के भाजपा अध्यक्ष कमल प्रताप सिंह ने कहा है कि सामूहिक बलात्कार मामले में विजय त्रिपाठी का नाम आने के बाद उसे तत्काल प्रभाव से जैतपुर मंडल अध्यक्ष पद से निष्कासित कर दिया गया और पार्टी से उसकी प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर दी गई।

Next Story

विविध

Share it