समाज

झारखंड के कोडरमा में दो बहनों ने रचाई शादी, बोलीं - हर हाल में एक-दूजे के साथ रहने का वादा

Janjwar Desk
7 Dec 2020 6:25 AM GMT
झारखंड के कोडरमा में दो बहनों ने रचाई शादी, बोलीं - हर हाल में एक-दूजे के साथ रहने का वादा
x
दोनों लड़कियों ने पिछले महीने आठ नवंबर को झुमरी तिलैया के एक शिव मंदिर में जाकर शादी कर ली। इन दोनों बहनों ने अपने परिवार वालों को इस रिश्ते के बारे में नहीं बताया और वे पांच साल से प्रेम संबंध व लिव इन रिलेशन में रह रही थीं।

जनज्वार। झारखंड के कोडरमा जिले में दो चचेरी बहनों ने समलैंगिक विवाह किया है और साथ रहने की कसमें खायी हैं। इनमें से एक की उम्र 24 साल और दूसरी की 20 साल है। बड़ी बहन ने ग्रेजुएशन की पढाई की है और छोटी ने इंटरमीडिएट किया है।

दोनों लड़कियों ने पिछले महीने आठ नवंबर को झुमरी तिलैया के एक शिव मंदिर में जाकर शादी कर ली। इन दोनों बहनों ने अपने परिवार वालों को इस रिश्ते के बारे में नहीं बताया और वे पांच साल से प्रेम संबंध व लिव इन रिलेशन में रह रही थीं। शादी के बाद अब इनका कहना है कि इन्हें लेस्बियन कहलाने में शर्म नहीं है और वे एक-दूसरे के साथ खुश हैं और इसलिए इस रिश्ते को स्वीकारा।

दोनों बहनें न्यूयार्क में रहने वाली अंजलि चक्रवर्ती और सूफी संडल्स से प्रभावित हैं और उन्हीं से प्रेरित होकर यह कदम उठाया। इनका कहना है कि अब कितनी भी मुश्किल आ जाए हम एक दूसरे के साथ ही रहेंगी।

दोनों बहनें शादी के बाद 20 दिनों ने जिले के चंदवारा थाना क्षेत्र में एक किराये के मकान में रह रही थीं। जब घर वालों को इसकी जानकारी मिली तो दोनों को पकड़ कर अपने साथ तिलैया लाया।

मामला जब पुलिस के पास पहुंचा और थानेदार ने उनसे पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि हमने शादी कर ली है और हम साथ ही रहेंगी।

कोडरमा में दो बहनों द्वारा समलैंगिक विवाह किए जाने का यह पहला ममला भले हो, लेकिन झारखंड व देश में ऐसे मामले पहले भी सामने आते रहे हैं। पांच साल बहले झारखंड के ही गुमला जिले की दो बहनों के एक साथ रहने की जिद का मामला साथ आया था। 23 साल व 17 साल की दो सगी बहनों में जब बड़ी बहन की पिता ने शादी तय कर दी तो दोनों घर से भाग कर रांची में किराये के मकान में रहने लगीं। उस वक्त भी उन दोनों ने बताया था कि हम साथ रहना चाहते हैं।

दरअसल, भावनात्मक सुरक्षा व मानसिक संतुष्टि को लेकर साथ रहने के दौरान ऐसे रिश्ते पनप जाते हैं जिससे बिछड़ने में असुरक्षा का भाव पैदा हो जाता है।

Next Story

विविध