Top stories

Dumka News : दुमका में अवैध संबंध के शक में अधेड़ और महिला को पेड़ में बांध कर पीटा, फिर निर्वस्त्र कर घुमाया

Janjwar Desk
14 March 2022 1:25 PM GMT
dumka news
x

पकड़े गए आरोपित

Dumka News : मध्य प्रदेश में भी युवती से छेड़खानी का वीडियो वायरल, पुलिस बोली- दोषियों को नहीं बख्शेंगे

Jharkhand News - झारखंड सरकार की ओर से मॉब लिंचिंग पर रोक के लिए विधानसभा में बिल पास किया गया है। पर इन सब कवायदों का असर समाज के तथाकथित ठेकेदारों पर पड़ता नहीं दिख रहा है। ताजा मामला दुमका जिला के मसलिया थाना क्षेत्र के एक गांव का है जहां से मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आयी है. यहां बीती देर रात अवैध संबंध के शक में दो लोगों को गांव भर के लोगों ने मिल कर प्रताड़ित किया. यहां तक कि एक महिला को गांव में निर्वस्त्र कर घुमाया गया।

घटना 12 मार्च के शाम की है. अवैध सबंध के शक में ग्रामीणों ने गांव के एक अधेड़ और एक महिला की पेड़ में बांध कर पिटाई की. इतने से भी जब मन नहीं भरा तो दोनों को निर्वस्त्र कर गांव के तीन टोलों में लाइट के साथ घुमाया गया. गनीमत रही कि समय पर पुलिस पहुंची और दोनों को ग्रामीणों के चंगुल से मुक्त करने के बाद इलाज के लिए भर्ती कराया. मसलिया में प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को फूलो झानो मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया. यहां दोनों का इलाज चल रहा है. मामले में अब तक पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. बता दें कि पीड़ित महिला आदिवासी है जबकि पुरुष सुनील गैरआदिवासी. अवैध संबंध की बात से दोनों ने इनकार किया है. महिला का कहना है कि वह सुनील का खेत बटाई पर करती है. एक ही गांव में होने के कारण जान पहचान है. कल भी उसके खेत से काम कर लौटने के क्रम में 15 से 20 की संख्या में ग्रामीणों ने पहले सुनील को पकड़ा फिर उसे भी पकड़ लिया फिर एक ही पेड़ में बांध कर पिटाई की गयी उसके बाद निर्वस्त्र कर गांव घुमाया.

इस संबंध में एसपी अम्बर लकड़ा ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाई की जाएगी. वहीं सोमवार को सभी गिरफ्तार आरोपी को मेडिकल जांच के बाद कोर्ट में प्रस्तुत कर जेल भेज दिया जाएगा. उधर कानून ने भी अपना काम शुरू कर दिया है. जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव के नेतृत्व में एक टीम ने फूलो झानो मेडिकल कॉलेज पहुंचकर पीड़ित और पीड़िता से मिलकर घटना की जानकारी ली. सरकारी वकील के साथ मुआवजा की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. तत्काल राशन उपलब्ध कराया गया. लेकिन सवाल उठता है कि कानून को हाथ मे लेने का अधिकार तथाकथित समाज के ठीकेदारों को किसने दिया. आखिर किसके संरक्षण में संथाल परगना प्रमंडल में इस तरह के घटना की पुनरावृत्ति हो रही है.

यहां आपको बताते चलें कि मध्य प्रदेश के आलीराजपुर जिले में इससे मिलती-जुलती एक शर्मनाक घटना सामने आयी है। वहां चल रहे भगोरिया मेले से एक हैरान करने वाला वीडियो वायरल हुआ है। इसी वीडियो में दिख रहा है कि कुछ युवक मेले में आई आदिवासी युवतियों के साथ गलत हरकतें कर रहे हैं। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने एक्शन लेने की बात कही है। ताजा अपडेट यह है कि मेले में युवती से अश्लील हरकत करने वाले 3 युवको को गिरफ्तार कर लिया गया है। वीडियो बनाने और इंटरनेट पर अपलोड करने वाले 2 युवकों सहित कुल 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के आलीराजपुर में इन दिनों भगोरिया उत्सव मनाया जा रहा है। इसी के तहत रविवार को भगोरिया हाट लगाया गया था। वीडियो में नजर आ रहा है कि युवकों की एक टोली गुजर रही है। बीच उनकी नजर किनारे की तरफ खड़ी एक आदिवासी बच्ची पर पड़ती है। तभी उनमें एक युवक बच्ची की तरफ बढ़ता है जबर्दस्ती करने लगता है। तब तक उसका दूसरा साथी उसे खींचकर वहां से हटाता है। इसके बाद आदिवासी बच्ची खुद को संभालने की कोशिश करती है, तभी एक अन्य युवक उसकी तरफ बढ़ता है और उसे खींचकर ले जाने लगता है। इस वीडियो को ट्राइबल आर्मी नाम के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है। इसमें लिखा है कि मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले में भगोरिया हाट में आदिवासी बच्ची के साथ हुई दुर्व्यवहार की घटना बेहद शर्मनाक है। मप्र शासन से कड़ी कार्यवाही की मांग करते हैं। जवाब में एसपी आलीराजपुर ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि वालपुर भगोरिया में वायरल वीडियो में छेड़खानी करने वाले आरोपियों की पहचान कर ली गई है। पुलिस अपनी कार्रवाई तत्परता से कर रही है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

Next Story

विविध