Top stories

Facebook New Name: मार्क जुकरबर्ग का ऐलान, Facebook की पहचान अब 'Meta' नाम से होगी

Janjwar Desk
29 Oct 2021 2:21 AM GMT
Facebook New Name: मार्क जुकरबर्ग का ऐलान, Facebook की पहचान अब Meta नाम से होगी
x
(सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक के नाम का ऐलान)
Facebook New Name: फेसबुक का नाम बदलकर अब मेटा कर दिया गया है। ट्विटर पर एक वीडियो में मेटा का लोगो भी जारी किया गया है। वर्टिकल आठ (8) के तर्ज पर मेटा का लोगो ब्लू कलर में जारी किया गया है...

Facebook New Name: सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने रिब्रांडिंग की ओर एक बड़ा कदम उठाते हुए अपना नाम बदल लिया है। फेसबुक को अब दुनिया 'मेटा' नाम से जानेगी। फेसबुक के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग ने गुरुवार, 28 अक्टूबर को इसका ऐलान किया। पिछले काफी समय से चर्चाएं तेज थी कि फेसबुक के नए नाम पर विचार किया जा रहा है और गुरुवार को एक बैठक के दौरान जुकरबर्ग ने इसका ऐलान भी कर दिया। नए नाम का ऐलान करते हुए मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अगले दशक के भीतर मेटावर्स एक अरब लोगों तक पहुंच जाएगा।

मार्क जुकरबर्ग ने कंपनी के कनेक्ट वर्चुअल रियलीट कॉन्फ्रेंस में फेसबुक के नए नाम (Facebook New Name) की घोषणा की। इस दौरान फेसबुक की ओर से ट्विटर पर लिखा गया, "फेसबुक का नया नाम मेटा (Meta)होगा। मेटा मेटावर्स बनाने में मदद करेगा। एक ऐसी जगह जहां हम खेलेंगे और 3डी तकनीक के जरिए एक दूसरे से जुड़ेंगे। सामाजिक जुड़ाव के अगले चैप्टर में आपका स्वागत है।" ट्विटर पर फेसबुक की ओर से 15 सेकेंड का एक वीडियो भी जारी किया गया है जिसमें यह दिखाया गया है कि फेसबुक का नाम बदलकर अब मेटा कर दिया गया है। इस वीडियो में मेटा का लोगो भी जारी किया गया है। वर्टिकल आठ (8) के तर्ज पर मेटा का लोगो ब्लू कलर में जारी किया गया है।

बता दें कि जुकरबर्ग लंबे समय से फेसबुक की रिब्रांडिंग करना चाह रहे थे। फेसबुक का लक्ष्य केवल सोशल प्लेटफॉर्म ही नहीं बल्कि मेटावर्स कंपनी के रूप में अपनी पहचान स्थापित करना है। इसी कदम में कंपनी का नाम मेटा रख गया है। फेसबुक के फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि भविष्य के लिए डिजिटल रूप से हो रहे बदलाव को शामिल करने के प्रयास के तहत उनकी कंपनी को अब नये नाम 'मेटा' के तौर पर जाना जाएगा। जुकरबर्ग इसे 'मेटावर्स' कहते हैं।

फेसबुक के फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने इस साल जुलाई में अर्निंग कॉल में कहा था कि कंपनी का भविष्य 'मेटावर्स' में है। फेसबुक जो लक्ष्य एक अल्फाबेट इंक जैसी होल्डिंग कंपनी बनने का है - जो कि एक संगठन के तहत इंस्टाग्राम, व्हाट्सऐप, ओकुलस और मैसेंजर जैसे कई सोशल नेटवर्किंग ऐप में से एक है।

फेसबुक ने हाल ही में कहा था वह अगले पांच वर्षों में यूरोपीय यूनियन में 10,000 लोगों को काम पर रखने की योजना बना रहा है ताकि मेटावर्स बनाने में मदद मिल सके। मेटावर्स (metaverse) के तरह की ऑनलाइन दुनिया है जहां लोग शेयर्ड वर्चुअल स्पेस में संवाद करते हैं।

बता दें कि फेसबुक ने वर्चुअल रियलिटी (VR) और ऑगमेंटेड रियलिटी (AR) में भारी निवेश किया है और अपने लगभग तीन अरब यूजर्स को कई डिवाइसेस और ऐप्स के माध्यम से जोड़ने का इरादा रखता है।

Next Story

विविध