Up Election 2022

UP Election 2022: अखिलेश के पक्ष में मुलायम का आह्वान, कहा- सत्ता में किसानों को कुचलने वाले बैठे हैं

Janjwar Desk
26 Jan 2022 10:37 AM GMT
upchunav2022
x

(मुलायम सिंह यादव ने किया अखिलेश के लिए लोगों का आह्वान)

UP Election 2022: आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर हमें संकल्प लेना है कि हमें लोकतंत्र और बाबा साहब के संविधान को बचाना है। जो लोग सत्ता में बैठे हैं। वह नकारात्मक सोच के लोग हैं। समाज को लड़ाना चाहते हैं...

UP Election 2022: आज पार्टी कार्यालय में गणतंत्र के मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने कहा कि सभी लोग मिलकर सपा की सरकार बनाइए। समाजवादी सरकार आप सब को सभी सुविधाएं देगी और समस्याओं का समाधान करेगी। उन्होंने कहा कि नौजवानों में बहुत जोश और उत्साह है। हम सभी को देश की रक्षा और सम्मान के लिए हर त्याग को तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी लोग जो हमारे ऊपर विश्वास करते हैं, हम उनके विश्वास को बनाए रखेंगे।

इस मौके पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर हमें संकल्प लेना है कि हमें लोकतंत्र और बाबा साहब के संविधान को बचाना है। जो लोग सत्ता में बैठे हैं। वह नकारात्मक सोच के लोग हैं। समाज को लड़ाना चाहते हैं। हम सभी समाजवादी लोगों को इनसे मुकाबला करना है।

अखिलेश यादव ने कहा कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) इन नकारात्मक सोच के लोगों का लगातार मुकाबला करते रहे। भाजपा को ऐसे समय में हराया, जिस समय कोई सोच नहीं सकता था कि भाजपा हारेगी। नेताजी समाज के दबे, कुचले और शोषित लोगों को साथ लेकर आए थे। कांशीराम को साथ लाकर देश की राजनीति को नई दिशा देने का काम किया था। इससे पहले भी समाजवादी और अंबेडकरवादी लोग साथ आना चाहते थे।

जो लोग जानते हैं, उन्हें पता है कि डॉ राम मनोहर लोहिया और बाबा साहब भीमराव अंबेडकर दोनों साथ मिलकर काम करना चाहते थे और समाज को आगे बढ़ाना चाहते थे। उन्होंने कहा कि देश को आजाद कराने वाले शहीदों और उनके परिवारों को याद कर रहे हैं। आज का दिन धरने पर बैठे उन किसानों और उनके बीच शहीद हुए लोगों को भी याद करने का दिन है।

अखिलेश ने साधा निशाना

अखिलेश यादव ने कहा कि धरने पर बैठे 700 किसान शहीद हुए, तब काले कानून वापस हुए। एक तरफ किसानों को अपने हक और सम्मान की लड़ाई लड़नी पड़ रही है, वहीं किसान और गांव का बेटा देश की सीमा पर रक्षा कर रहा है। सीमाओं पर रक्षा में सबसे ज्यादा गांव और किसान के बेटे हैं। लेकिन भाजपा की सरकार में उसी किसान के साथ क्या क्या नहीं हुआ। सड़क पर कीलें लगा दी गईं। आरसीसी की दीवार बना दी गई। डीजल नहीं दिया गया और आंदोलन में 700 किसान शहीद हुए। इस अपमान और अन्याय को किसान कभी नहीं भूल सकता है।

सत्ता में किसानों को कुचलने वाले बैठे हैं

अखिलेश यादव ने कहा कि सत्ता में वही लोग बैठे हैं, जिनके बेटों ने किसानों को कुचल दिया। उनकी हत्या कर दी। अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी चुनाव को किसान, नौजवान, विकास, महंगाई और बेरोजगारी से हटाकर दूसरी दिशा में ले जाना चाहती है लेकिन अभी तक प्रदेश की जनता और समाजवादी लोग उनके जाल में नहीं फंसे। वाट्सएप और सोशल मीडिया पर भाजपा क्या-क्या फैला रही है, इसे सभी लोग देख रहे हैं।

यह भाजपाई जो अपने घरों से नहीं निकलते थे आज वह गली-गली घूम रहे हैं। इनके पास महंगाई, बेरोजगारी का कोई जवाब नहीं है। पश्चिमी यूपी में पहले चरण से ही इस बार परिणाम आना शुरू हो जाएगा। इनके विधायक और नेता गांव-गांव में दौड़ाये जा रहे हैं। जनता भाजपा से बहुत नाराज है। यह चुनाव जनता स्वयं लड़ रही है। अखिलेश यादव ने पार्टी नेताओं से कहा कि इसे अपना चुनाव समझिए। यह आप सब के भाग्य का चुनाव है।

Next Story

विविध