Up Election 2022

UP Election 2022 : निर्दलीय उम्मीदवार की एंबुलेंस फूंकीं, प्रत्याशी बोला राजनीतिक द्वेष में दिया गया वारदात को अंजाम

Janjwar Desk
23 Feb 2022 2:54 PM GMT
UP Election 2022 : निर्दलीय उम्मीदवार की एंबुलेंस फूंकीं, प्रत्याशी बोला राजनीतिक द्वेष में दिया गया वारदात को अंजाम
x
UP Election 2022 : निर्दलीय उम्मीदवार रवीश कुमार ने बताया कि राजनीतिक द्वेष की वजह से कुछ अज्ञात लोगों ने मंगलवार देर रात करीब डेढ़ बजे हमारे अस्पताल पर खड़ी दो एंबुलेंस को आगे के हवाले कर दिया है....

UP Election 2022 : उत्तर प्रदेश के कुशीनगर (Kushinagar) की हाटा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार रवीश कुमार (Ravish Kumar) पेशे से डॉक्टर हैं। उनका सुकरौली में सावित्री नाम का अस्पताल चलता है। समाजसेवी रवीश कुमार की ओर से करीब पांच साल पहले गरीब मरीजों के लिए चलाए जा रहे निशुल्क दो एंबुलेंस को मंगलवार की देर रात करीब डेढ़ अज्ञात लोगों ने आग लगा दी।

खबरों के मुताबिक रवीश कुमार का सुकरौली में सावित्री (Savitri Hospital) नाम का निजी अस्पताल चलता है। वह विगत पांच वर्षों से असहाय गरीब लोगों की मदद कर रहे हैं। कोरोना संकट के समय रवीश ने गरीबों की काफी मदद भी की थी।

निर्दलीय उम्मीदवार रवीश कुमार ने बताया कि राजनीतिक द्वेष की वजह से कुछ अज्ञात लोगों ने मंगलवार देर रात करीब डेढ़ बजे हमारे अस्पताल पर खड़ी दो एंबुलेंस को आगे के हवाले कर दिया है। जानकारी मिलने पर आसपास के लोग घटना स्थल पर पहुंचते इससे पहले एंबुलेंस पूरी तरह जलकर खाक हो गई थी।

रवीश कुमार ने कहा कि विपक्षियों द्वारा यह घिनौना काम कर हमें रोकने का काम किया गया है लेकिन हम जनता की सेवा किए हैं और आगे भी अंतिम समय तक करते रहें। इससे मेरा मनोबल टूटने वाला नहीं है। मेरी जान या मेरे परिवार को किसी तरह का नुकसान होगा तो जनता इसका हिसाब खुद करेगी।

उत्तर प्रदेश में आज चौथे चरण का मतदान संपन्न हो चुका है। इस चरण में 57 प्रतिशत से ज्यादा मतदान हुआ है। चौथे चरण में 9 जिलों की 59 सीटों पर मतदान हुआ। दिनभर कई बूथों पर फर्जी वोटिंग, ईवीएम में गड़बड़ी का समाजवादी पार्टी ने आरोप लगाया और चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की। अब तीन चरणों का मतदान होना बाकी है चुनाव के नतीजे 10 मार्च को सामने आएंगे।

चौथे चरण में रुहेलखंड से लेकर तराई बेल्ट और अवध क्षेत्र के नौ जिलों की 59 सीटों पर 624 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में बंद हो गई है। साल 2017 के विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में इन नौ जिलों में कुल 55.31 प्रतिशत मतदान हुआ था जबकि 2019 के लोकसभा चुनाव में 58.24 प्रतिशत वोट पड़े थे।

Next Story

विविध