Up Election 2022

UP Election 2022 Result : सपा ने बताया हमें भाजपा की B टीम, इसलिए ट्रांसफर हो गए BSP के वोट- मायावती

Janjwar Desk
11 March 2022 6:05 AM GMT
Mayawati News : रामपुर में हार के बाद पहली बार बोलीं मायावती, बताई सपा क्यों हारी उपचुनाव
x

Mayawati News : रामपुर में हार के बाद पहली बार बोलीं मायावती, बताई सपा क्यों हारी उपचुनाव

UP Election 2022 Result : बसपा और कांग्रेस का सबसे बुरा हाल हुआ है, यूपी में सिर्फ एक सीट पाने वाली बसपा की मुखिया मायावती ने इस करारी हार के लिए सपा के दुष्प्रचार को जिम्मेदार ठहराया है...

UP Election 2022 Result : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद ये साफ हो गया है कि यूपी में इस बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी| वहीं बसपा और कांग्रेस का सबसे बुरा हाल हुआ है| यूपी में सिर्फ एक सीट पाने वाली बसपा की मुखिया मायावती ने इस करारी हार के लिए सपा के दुष्प्रचार को जिम्मेदार ठहराया है|

हार के लिए सपा का दुष्प्रचार जिम्मेदार

बसपा सुप्रीमो मायावती ने आज शुक्रवार सुबह लखनऊ में कहा कि बसपा को यदि मुस्लिम और दलित का वोट मिल जाता तो भाजपा की हार हो जाती| मायावती ने आगे कहा कि यह चुनाव हमारे लिए एक सीख की तरह से है। बसपा के खिलाफ दुष्प्रचार किया गया। मैं बसपा के समर्थकों से कहना चाहूंगी कि हिम्मत नहीं हारनी है और लगे रहना है। बाबासाहेब के अनुयायी कभी हिम्मत नहीं हार सकते हैं। मैं कहना चाहूंगी कि अब बुरा वक्त खत्म होने वाला है। हमने जीजान से प्रयास किया और उसके बाद भी यह नतीजा आया है तो फिर इससे बुरा क्या हो सकता है।'

बसपा का वोट भाजपा को हुआ ट्रांसफर

बता दें कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने साफ तौर माना है कि दलित वोट बड़े पैमाने पर भाजपा को ट्रांसफर हो गया है और उसी के चलते उसे बड़ी जीत मिल गई हैं| साथ ही मायावती ने कहा कि इस बार चुनाव में मुसलमानों का वोट एकतरफा सपा की ओर जाता दिखा। ऐसे में मेरे अपने समाज को छोड़कर बड़ी संख्या में हिंदू समाज के लोगों ने भाजपा को ही वोट दे दिया ताकि सपा का गुंडाराज न आ सके।' आगे मायावती ने बसपा की इस हार की तुलना 1977 में कांग्रेस की हालत से की| उन्होंने कहा कि ऐसे दौर में हमें हताश होने की बजाय भविष्य के लिए प्रयास काने चाहिए| हमें बाबासाहेब के जीवन के संघर्ष को याद करते हुए काम करना होगा|

बीजेपी को हुए बसपा के वोट ट्रांसफर

मायावती ने अपनी हार के लिए सपा को जिम्मेदार ठहराया, जिसने उन्हें भाजपा की बी टीम बताया| आगे मायावती ने कहा कि मैं बीएसपी के सभी छोटे बड़े पदाधिकारियों और लोगों को धन्यवाद देती हूं, जिन्होंने जी-जान से काम किया है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने माना कि बसपा का ग्राफ गिरा है और यह हमारे लिए चिंता की बात है। साथ ही मायावती ने भी यह स्वीकार कर लिया है कि गैर-जाटव दलित वोटों का आधार बसपा से खिसका है और उसका बड़ा हिस्सा भाजपा के खेमे में चला गया है। यही वजह है कि उन्होंने खुलकर कहा कि मेरे अपने समाज के अलावा हिंदू समाज की अन्य जातियों का वोट सपा के गुंडों के डर से भाजपा को ट्रांसफर हो गया।

Next Story

विविध