Up Election 2022

Uttarakhand Election 2022 : कांग्रेस की 'लड़की हूँ, लड़ सकती हूं' मुहिम को मिलने वाला है बड़ा झटका, महिला प्रदेश अध्यक्ष पार्टी छोड़ने पर उतारू

Janjwar Desk
15 Jan 2022 11:42 AM GMT
Uttarakhand Election 2022 : कांग्रेस की लड़की हूँ, लड़ सकती हूं मुहिम को मिलने वाला है बड़ा झटका, महिला प्रदेश अध्यक्ष पार्टी छोड़ने पर उतारू
x
Uttarakhand Election 2022 : यशपाल आर्य के कांग्रेस में शामिल होने के बाद नैनीताल से यशपाल आर्य के पुत्र संजीव आर्य को कांग्रेस का टिकट मिलना तय है जबकि सरिता आर्य भी वहाँ से टिकट की प्रबल दावेदार हैं.....

सलीम मलिक की रिपोर्ट

Uttarakhand Election 2022 : कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) की "लड़की हूँ, लड़ सकती हूं" मुहिम को उत्तराखण्ड में बड़ा झटका लगने जा रहा है। पार्टी ने महिला विंग की सेनापति को टिकट से वंचित किया तो वह पार्टी छोड़ देंगी। खुद उन्होंने यह ऐलान कर दिया है।

इस बयान के बाद प्रदेश कांग्रेस महिला अध्यक्ष सरिता आर्य (Sarita Arya) के भाजपा में शामिल होने की अटकलों के बीच उत्तराखंड के राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई है।

सरिता आर्य का कहना है कि अगर कांग्रेस (Congress) में उनकी अनदेखी हुई और भाजपा (BJP) उनको टिकट देगी तो कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा का दामन थाम 2022 के विधानसभा चुनाव में अपनी नई पारी की शुरुआत करेंगी। कहा कि अगर वह खुद अपना टिकट नहीं नहीं बचा पाएंगी तो दूसरी महिला नेताओं को क्या जवाब देंगी जो उनके भरोसे दावेदारी कर रही हैं। नैनीताल विधानसभा क्षेत्र से टिकट न मिलने की संभावनाओं के चलते उनका भाजपा में शामिल होना तय है।

यशपाल आर्य (Yashpal Arya) के कांग्रेस में शामिल होने के बाद नैनीताल से यशपाल आर्य के पुत्र संजीव आर्य को कांग्रेस का टिकट मिलना तय है। जबकि सरिता आर्य भी वहाँ से टिकट की प्रबल दावेदार हैं। इसीलिए सरिता आर्य ने यह कहकर अपनी रणनीति का संकेत दे दिया है कि भाजपा अगर उन्हें टिकट देती है तो वह भाजपा में शामिल होंगी।

बताया जा रहा है कि सरिता आर्य ने डालनवाला आवास पर भाजपा प्रदेश प्रभारी प्रह्लाद जोशी से एक घण्टे की मुलाकात की। इस दौरान रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद थे।

सरिता ने बताया कि वह उस बिल्डिंग में जरुर गई थीं, लेकिन प्रह्लाद जोशी से मुलाकात नहीं की। सरिता के अनुसार वे वहां अपने किसी रिश्तेदार से मिलने गई थीं। हालांकि सरिता आर्य ने यह भी साफ कहा कि अगर भाजपा मुझे टिकट देगी तो मैं जरूर जाऊंगी। दूसरी ओर खबर है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय, जो की पार्टी से नाराज चल रहे हैं, वह भी अब जल्द ही कोई फैसला ले सकते हैं। खबर है कि किशोर के इशारों पर सरिता भी कांग्रेस से बगावत कर सकती है ।

Next Story
Share it