Up Election 2022

Uttarakhand Election 2022 : उत्तराखंड में इन बेटियों ने अपने पिता के परंपरागत प्रतिद्वंद्वियों को धूल चटाकर लिखी विजय की पटकथा

Janjwar Desk
11 March 2022 9:21 AM GMT
Uttarakhand Election 2022 : उत्तराखंड में इन बेटियों ने अपने पिता के परंपरागत प्रतिद्वंद्वियों को धूल चटाकर लिखी विजय की पटकथा
x

उत्तराखंड में इन बेटियों ने अपने पिता के परंपरागत प्रतिद्वंद्वियों को धूल चटाकर लिखी विजय की पटकथा

Uttarakhand Election 2022 : पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत कांग्रेस के टिकट पर हरिद्वार ग्रामीण सीट से विजयी रही, हरीश रावत खुद भी कांग्रेस के टिकट पर लालकुंआ सीट से चुनाव लड़े और उन्हें हार का सामना करना पड़ा....

Uttarakhand Election 2022 : विधानसभा चुनाव में अपने-अपने पिताओं के परंपरागत प्रतिद्वंद्वीयों को धराशाई करने के इरादे से चुनावी समर में उतरी दो पूर्व मुख्यमंत्रियों की बेटियों ने अपने-अपने पिताओं की चुनावी हार का बदला पूरा कर लिया। दोनों ने ही उन प्रत्याशियों को धूल चटाई, जिनसे उनके पिता प्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर रहने के दौरान हारे थे।

इनमें तो एक पूर्व मुख्यमंत्री की पुत्री पहली बार चुनाव में प्रत्याशी बनी थी तो दूसरे पूर्व मुख्यमंत्री की पुत्री निवर्तमान विधायक थी। जो अपना चुनाव क्षेत्र बदले जाने के कारण पिता के परम्परागत प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ चुनाव लड़ रही थी। पहली पुत्री के पिता भी चुनाव लड़े, लेकिन पिता चुनाव जीतने में सफल नहीं हो पाए। वहीं, दूसरी प्रत्याशी के पिता ने सक्रिय राजनीति से पिछले चुनाव से ही सन्यास ले रखा है।

पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत कांग्रेस के टिकट पर हरिद्वार ग्रामीण सीट से विजयी रही। हरीश रावत (Harish Rawat) खुद भी कांग्रेस के टिकट पर लालकुंआ सीट से चुनाव लड़े और उन्हें हार का सामना करना पड़ा। अनुपमा रावत (Anupama Rawat) हरिद्वार ग्रामीण सीट से विजय रहीं। अनुपमा ने भाजपा प्रत्‍याशी यतीश्‍वरानंद को हराया। अनुपमा को 50028 वोट पड़े। जबकि यतीश्‍वरानंद को 45556 वोट मिले।

पूर्व सीएम बीसी खंडूड़ी की बेटी रितु खंडूड़ी (Ritu Khanduri) बीजेपी के टिकट पर कोटद्वार विधानसभा से चुनाव जीती। रितु खंडूड़ी को 31455 वोट पड़े। उन्‍होंने कांग्रेस प्रत्‍याशी सुरेंद्र सिंह नेगी को हराया। सुरेंद्र सिंह नेगी को 27969 वोट पड़े।

दिलचस्प बात ये है कि 2012 में कोटद्वर सीट से सुरेंद्र सिंह नेगी ने बीसी खंडूड़ी (B.C. Khanduri) को और 2017 में हरिद्वार ग्रामीण सीट से यतीश्‍वरानंद ने हरीश रावत को हराया था। वर्ष 2012 में कोटद्वार विधानसभा सीट पर हुए चुनाव में कांग्रेस प्रत्‍याशी सुरेंद्र सिंह नेगी ने तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री बीसी खंडूड़ी को 4,623 वोटों से हराया था। इस चुनाव में बीसी खंडूड़ी को 27174 वोट मिले थे। वहीं, सुरेंद्र सिंह नेगी को 31,797 वोट मिले थे। वहीं, इसी सीट पर वर्ष 2017 में हुए चुनाव में भाजपा के प्रत्‍याशी हरक सिंह रावत विजयी रहे थे।

Next Story

विविध