विमर्श

UP : जिंदगी से तंग युवक ने भगवान भोलेनाथ के सामने खुद को मारी गोली, जान देने का कारण बना रहस्य

Janjwar Desk
11 July 2021 5:48 PM GMT
UP : जिंदगी से तंग युवक ने भगवान भोलेनाथ के सामने खुद को मारी गोली, जान देने का कारण बना रहस्य
x

(इसी थाना डेरापुर के निकट एक मंदिर के भीतर युवक ने खुद कोे गोली से उड़ा लिया)

कानपुर देहात में एक मंदिर के बाहर तब हडकंप मच गया जब मंदिर के अंदर से अचानक गोली चलने की आवाज़ आई। कुछ लोग मंदिर के अंदर पूजा कर रहे थे और कुछ मंदिर के बाहर मौजूद थे। अचानक, गोली की आवाज से हडकंप मच गया, मंदिर के अंदर से चीखने की आवाज़ आई...

जनज्वार, कानपुर देहात। परेशानी के बीच घिरा इंसान जब अपने आप को अकेला महसूसता है तो, उसे भगवान के अलावा कुछ नहीं दिखता-सूझता। शायद इस उम्मीद में कि, भगवान के दर पर उम्मीद की कोई किरण दिख जाए। लेकिन इंसान की उम्मीद जब टूटती है तो फिर क्या इंसान क्या भगवान, कोई कुछ नहीं कर पाता।

यही कुछ मामला कानपुर देहात स्थित थाना डेरापुर क्षेत्र के कपालेश्वर मंदिर में देखने को मिला। जहां एक शख्स ने पहले भगवान की पूरी विधि-विधान से पूजा-अर्चना की और फिर उसी भगवान के सामने खुद को गोली मारकर मौत के घाट उतार लिया।

जानकारी के मुताबिक, कानपुर देहात में एक मंदिर के बाहर तब हडकंप मच गया जब मंदिर के अंदर से अचानक गोली चलने की आवाज़ आई। कुछ लोग मंदिर के अंदर पूजा कर रहे थे और कुछ मंदिर के बाहर मौजूद थे। अचानक, गोली की आवाज से हडकंप मच गया, मंदिर के अंदर से चीखने की आवाज़ आई और लोग अंदर से बाहर भागने लगे। साथ ही जो बाहर थे वो ये देखने के लिए अंदर भागे की आखिर ये चीख क्या है?

मंदिर के भीतर सुसाईड का प्रयास करने वाला युवक

मंदिर के अंदर का मंजर इतना भयावह था कि, किसी का भी दिल दहल सकता था। अंदर फर्श पर पड़ा एक शख्स, जो खून से लथपथ था और दर्द से कराह रहा था। दर्द के बीच उसके चेहरे पर मजबूरी और खुदखुशी के इस कदम को लेकर पछतावा भी साफ दिख रहा था। लेकिन गोली चल चुकी थी, जो होना था हो चुका था। युवक गंभीर रूप से घायल हो गया था।

आत्महत्या कि ऐसी बहुत सी घटनाएं पहले भी देखी गईं हैं लेकिन भगवान के सामने जाकर खुद को खत्म कर लेने का सीन फिल्मों में ही बहुतायत देखा और सुना गया है। लेकिन शायद ये पहला मामला सामने आया है जिसमे किशी शख्स ने किसी मंदिर में जाकर पहले तो भगवान की पूरी विधि-विधान से पूजा की और फिर अचानक भगवान की मूर्ति के सामने खड़े होकर अपने आप को गोली मार ली।

गोली चलते ही मंदिर में एकाएक सन्नाटा छा गया। अगल-बगल कोहराम मच गया और एक चीख के बाद मंदिर में मौजूद लोगों की चीख पुकार मच गई। लोग भागने लगे। मौजूद लोगों ने अपनी आँखों के सामने ही युवक को खून से लहूलुहान देखा तो सहम गए।

क्षेत्राधिकारी अकबरपुर अरूण कुमार सिंह

घायल युवक कानपुर के चौबेपुर इलाके का रहने वाला बताया जा रहा है, युवक खास तौर पर कानपुर देहात के कपालेश्वर मंदिर में पूजा करने के लिए आया था या फिर यहां से गुजरते हुए उसने दर्शन के बाद खुद को गोली मार ली, ये राज़ अभी खुलना बाकी है। पुलिस तफ्तीश कर रही है।

इस मामले में क्षेत्राअधिकारी अकबरपुर अरूण कुमार सिंह ने जनज्वार को बताया कि 'कल 10 जुलाई की शाम लगभग 4 साढ़े चार बजे थानाक्षेत्र डेरापुर स्थित एक मंदिर परिसर में युवक द्वारा खुद को गोली मार लेने का मामला सामने आया है। युवक के पास से 315 बोर का तमंचा व एक कारतूस मिला है। जानकारी करने पर युवक चौबेपुर निवासी शुभम शुक्ला पुत्र राजेश शुक्ला बताया गया है। परिजनो से पूछताछ पर पारिवारिक परेशानियों की वजह सामने आई है। आगे की जो भी कार्रवाई है वह की जा रही है।'

Next Story

विविध

Share it