दुनिया

राष्ट्रपति की कुर्सी नहीं बची तो ट्रंप ने करा दिया अमेरिकी संसद पर अपने समर्थकों से आतंकी हमला

Janjwar Desk
7 Jan 2021 3:17 AM GMT
राष्ट्रपति की कुर्सी नहीं बची तो ट्रंप ने करा दिया अमेरिकी संसद पर अपने समर्थकों से आतंकी हमला
x
अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन डीसी में भारी बवाल के कुछ घंटों के बाद इलेक्टोरल वोटों के प्रमाणीकरण की प्रक्रिया एक बार फिर शुरू की गयी है...

जनज्वार। अमेरिका में चुनाव हार चुके राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने बुधवार को भारी बवाल किया है। अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन डीसी में ट्रंप के समर्थकों ने कैपिटल बिल्डिंग पर हमला बोला दिया और उसके कब्जे में कर लिया। इस दौरान पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन ट्रंप समर्थक नहीं माने और कैपिटल बिल्डिंग के अंदर प्रवेश कर गए। इस दौरान हुई गोलीबारी में एक महिला की मौत भी हो गयी।

दरअसल, यह बवाल अमेरिका में अब रिपब्लिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से डेमोक्रेट निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के पास सत्ता हस्तांरण की प्रक्रिया शुरू होने को लेकर किया गया है। इसको लकर कैपिटल बिल्डिंग में अमेरिकी संसद के दोनों सदनों की बैठक निर्धारित थी। इसमें ट्रंप और बाइडन को मिले इलेक्टोरल काॅलेज वोटों की गिनती होनी थी।

हालांकि हिंसा के कुछ घंटों के बाद अमेरिकी सांसदों के द्वारा इलेक्टोरल काॅलेज के वोटों के प्रमाणीकरण की प्रक्रिया फिर से शुरू करायी गयी।

अमेरिकी संसद की प्रस्तावित बैठक और सत्ता हस्तांरण को लेकर ट्रंप समर्थक भारी संख्या में वाशिंगटन डीसी के कैपिटल बिल्डिंग के आसपास जुट गए और कम संख्या में तैनात सुरक्षा बलों की कोशिशों के बावजूद भवन के अंदर घुस गए।

अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जे बाइडन ने इसे राजद्रोह बताया है और कहा है कि यह वह अमेरिका नहीं है जिसकी कल्पना करते हैं।

उधर, इस हिंसा के बाद फेसबुक ने डोनाल्ड ट्रंप के उस वीडियो को हटा दिया है जिसके माध्यम से उन्होंने अपने समर्थकों को संबोधित किया था। फेसबुक के वाइस प्रेसिडेंट आ

फ इंटिग्रिटी गाय रोसेन ने कहा है हमने उस वीडियो को इस वजह से हटा दिया क्योंकि यह जारी हिंसा के जोखिम को कम करने के बजाय उसे बढाने में योगदान देता है। वहीं, ट्विटर ने भी ट्रंप के आखिरी तीन ट्वीट को हटा दिया है। ट्विटर ने 12 घंटे के लिए ट्रंप के एकाउंट को लाॅक भी कर दिया।

इस हिंसा के बाद अमेरिका की फस्र्ट लेडी मिलेनिया ट्रंप की चीफ आफ स्टाॅफ स्टेफेनी ग्रिसम ने इस्तीफा दे दिया है।

उधर, अमेरिका रक्षा विभाग ने पूरे वाशिंगटन डीसी में ट्रंप समर्थकों के बवाल के मद्देनजर नेशनल गार्ड को तैनात कर दिया है।

Next Story

विविध