दुनिया

Pakistan News : अविश्वास प्रस्ताव में हारे तो इमरान खान करेंगे प्लान बी पर काम, ये है पाकिस्तानी पीएम की रणनीति

Janjwar Desk
3 April 2022 6:30 AM GMT
Pak PM Imran Khan का आवाम के नाम संदेश: बोले- मैं झुकूंगा नहीं, अमेरिका पर लगाया ये आरोप
x

Pak PM Imran Khan का आवाम के नाम संदेश: बोले- मैं झुकूंगा नहीं, अमेरिका पर लगाया ये आरोप

Pakistan News : इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को अंजाम देने में विपक्ष सफल हो जाता है तो इस स्थिति से निपटने के लिए सत्ताधारी पाकिस्तानी तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) ने रणनीति तैयार की है...

Pakistan News : पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) के खिलाफ आज संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव (Imran Khan No Confidence) पर मतदान होने जा रहा है| पाकिस्तान में सत्तारूढ़ गठबंधन से कई सहयोगी दल किनारा कर चुके हैं| ऐसे में अब संख्या गणित के लिहाज से इमरान खान सरकार अल्पमत में आ गई है| इमरान खान को अपनी हार का पूरी तरह एहसास हो गया है और यही वजह है कि वह प्लान बी पर काम कर रहे हैं। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार अविश्वास प्रस्ताव के दौरान इमरान खान खुद को शहीद बनाना चाहते हैं। इसके बाद इमरान तत्काल चुनाव की ओर जा सकते हैं।

यह है इमरान खान का प्लान बी

पाकिस्तानी अखबार 'द एक्सप्रेस ट्रिब्यून' की रिपोर्ट के अनुसार अगर इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को अंजाम देने में विपक्ष सफल हो जाता है तो इस स्थिति से निपटने के लिए सत्ताधारी पाकिस्तानी तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) ने रणनीति तैयार की है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग के कार्यान्वयन और नैशनल असेंबली द्वारा अनुमोदित विदेशी पाकिस्तानियों के लिए वोट के अधिकार सहित चुनावी सुधारों को प्राप्त करने में अपनी भूमिका निभाते हुए पीटीआई जल्द चुनाव की पुष्टि कर सकती है। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी पार्टी भविष्य की सरकार के खिलाफ जन विरोध आंदोलन शुरू करेगी और सत्ता में वापसी के लिए समर्थन जुटाने के लिए चुनाव अभियान चलाएगी।

अगले चुनाव में वफादार नेताओं को दिया जाएगा टिकट

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देश के प्रमुख शहरों और जिलों में जनसभाएं की जाएगी और सभी स्तर पर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा पार्टी के वरिष्ठ और वफादार कार्यकर्ताओं और नेताओं को अगले चुनाव के लिए टिकट दिया जाएगा और कोई भी असंतुष्ट सदस्य पार्टी के पुनर्गठन में शामिल नहीं होगा। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार सूत्रों का कहना है कि ऊपर से यूनियन काउंसिल स्तर तक एक एकीकृत ढांचा बनाया जाएगा|विधायक प्रांतीय विधानसभाओं से तुरंत इस्तीफा नहीं देंगे बल्कि निर्णय परिस्थितियों पर आधारित होंगे।

पीटीआई शुरू करेगी अभियान

पीटीआई सूत्रों का कहना है कि पीटीआई विदेशी खतरे और पिछले साढे 3 वर्षों के दौरान सरकार के प्रदर्शन के मद्देनजर विपक्ष की भूमिका के बारे में लोगों को सूचित करने के लिए एक अभियान शुरू करेगी। संगठन में कोई भी विचलित सदस्य और नेता फिर से शामिल नहीं होंगे। इमरान खान निष्कासन के बाद लोगों को अपनी सरकार के खिलाफ साजिश के बारे में सूचित करेंगे और लोगों से सभी स्तरों पर सदस्य और षड्यंत्रकारी पात्रों का बहिष्कार करने के लिए कहा जाएगा। वहीं पीटीआई के सूत्रों का कहना है कि पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के इस रणनीति को मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

Next Story

विविध