दुनिया

Russia News : लाशों को घर में सजाने वाले कैदी ने की रिहाई की मांग, 55 वर्ष की उम्र में करना चाहता है शादी

Janjwar Desk
9 Jan 2022 7:56 AM GMT
Russia News : लाशों को घर में सजाने वाले कैदी ने की रिहाई की मांग, 55 वर्ष की उम्र में करना चाहता है शादी
x

लाशों को घर में सजाने वाले कैदी ने की रिहाई की मांग

Russia News : इस खौफनाक घटना को अंजाम देने वाले व्यक्ति को लंबे समय तक मनोवैज्ञानिकों के बीच रखा गया था लेकिन हर बार वह अपने पहले दावे को ही दोहराता रहा कि वह इन बच्चियों को फिर से जिंदा कर सकता है...

Russia News : एक ऐसे शख्स की कहानी फिर सामने में निकल कर आई है, जो घर में लाशों को सजाने का शौकीन था। आज वो शख्स फिर सुर्खियों में आ गया है। वह एक ऐसा व्यक्ति था जो कब्र से बच्चियों के शव निकाल कर लाता था और उन्हें गुड़िया की तरह अपने घर में सजा कर रख देता था। उस व्यक्ति की संदिग्ध गतिविधियों के चलते शक हुआ और उसके घर की तलाशी ली गई तो वहां से 26 लाशें मिली थी। बता दें कि इस शख्स के घर से जो लाशें मिली थी, उन सभी बच्चियों की उम्र 3 से 12 साल के बीच की थी।

कैदी ने जताई शादी की इच्छा

बता दें कि इस मामले में सजा काट रहे कैदी का नाम एंटोली मास्कविन (Antoly Moskvin) है। यह घटना 2011 की रूस के निजनी नोवगोरोड (Nizhny Novgorod) शहर की है। अब यह घटना एक बार फिर सुर्खियों में आ गई है क्योंकि इस मामले में सजा काट रहे व्यक्ति ने अपने शादी करने की इच्छा जताई है। उसने अपने रिहाई की मांग की है। साथ ही इस व्यक्ति ने कहा है कि वह शादी करना चाहता है और मास्को में बसना चाहता है।

यह था मामला

रूस के शहर में एंटोली मास्कविन नाम के व्यक्ति ने डरावनी हरकत को अंजाम दिया था। जब यह व्यक्ति पकड़ा गया था तो उसने पूछताछ में बताया कि उसे विश्वास था कि वह बच्चिंयों को जिंदा कर देगा। इसलिए वह इन बच्चों की लाशों को कब्र से निकालकर अपने घर में ले आया था और बाद में उन लाशों को सजा कर सोफे पर बैठा दिया था। बता दें कि इस व्यक्ति को बाद में ग्रेव रॉबर एंटोली मास्कविन (Grave Robber Anatoly Moskvin) के नाम से जाना गया। इस मामले में पुलिस का कहना है कि यह व्यक्ति किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है।

कब्रों की पवित्रता को भंग करने का चला था केस

इस खौफनाक घटना को अंजाम देने वाले व्यक्ति को लंबे समय तक मनोवैज्ञानिकों के बीच रखा गया था लेकिन हर बार वह अपने पहले दावे को ही दोहराता रहा कि वह इन बच्चियों को फिर से जिंदा कर सकता है। इसके बाद इस व्यक्ति पर कब्रों की पवित्रता को भंग करने का केस चला और रूस के पैनल कोड की धारा 244 के तहत उसे सजा सुना दी गई। इसके बाद आदेशानुसार उसे एक मेंटल हॉस्पिटल में रख दिया गया था।

बता दें कि इस व्यक्ति की गिरफ्तारी के बाद स्थानीय पुलिस ने एक वीडियो भी सार्वजनिक तौर पर जारी किया था| जिसमें यह दिख रहा था कि बच्चियों की लाशें गुड़िया की तरह सजाकर घर में सोफे पर रखी गई थी। फिलहाल ग्रेव रॉबर एंटोली मास्कविन की उम्र 55 वर्ष है और अब उसने शादी करने की इच्छा जताई है जिसके लिए उसने अपने रिहाई की मांग की है और कहा है कि वह शादी करके मास्को में बसना चाहता है|

Next Story

विविध

Share it