दुनिया

Russia Ukraine War : यूक्रेन की राजधानी कीव में गोली लगने से एक भारतीय छात्र की हालत गंभीर, पोलैंड पहुंचे जनरल वीके सिंह ने की पुष्टि

Janjwar Desk
4 March 2022 6:03 AM GMT
Russia Ukraine War : यूक्रेन की राजधानी कीव में गोली लगने से एक भारतीय छात्र की हालत गंभीर, पोलैंड पहुंचे जनरल वीके सिंह ने की पुष्टि
x

 यूक्रेन में एक और भारतीय छात्र को गोली लगी। अस्पताल में भर्ती।

russia Ukraine war

Russia Ukraine War : नागरिक उड्डयन मंत्रालय के राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने इस बात की पुष्टि की हैकि यूक्रेन में एक और भारतीय छात्र को गोली लगी है। गंभीर रूप से घायल छात्र को कीव के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Russia Ukraine War : रूस यूक्रेन वार अपडेट्स। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध के नौवें दिन भी जंग जारी है। कीव सहित कई शहरों पर रूस की ओर से बमबाीर और फायरिंग की घटनाएं जारी है। इस बीच एक और भारतीय छात्र को गोली लगने की सूचना है। गंभीर रूप से घायल एक छात्र को राजधानी कीव के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ( General VK Singh ) ने इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को पोलैंड के रेजजो हवाई अड्डे पर इसकी जानकारी दी।

बंदूक की गोली नहीं देखती धर्म और राष्ट्रीयता

जनरल वीके सिंह ने बताया कि भारतीय दूतावास ने पहले ही प्राथमिकता से इस बात को साफ कर दिया था कि सभी को कीव छोड़ देना चाहिए। युद्ध की स्थिति में बंदूक की गोली किसी के धर्म और राष्ट्रीयता को नहीं देखती है।

फिलहाल, यूक्रेन में बिगड़े हालत के बीच भारतीय छात्र वहां से भाग रहे हैं। भारतीय छात्र सुरक्षित घर वापसी के लिए पोलैंड की सीमा तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि, रूस की सेना लगातार यूक्रेन पर बम बरसा रही है। इस जंग को आज नौवां दिन है। इसके जल्द खत्म होने के आसार दूर-दूर तक दिखाई नहीं दे रहे हैं।

बता दें कि इससे पहले कर्नाटक के रहने वाले नवीन शेखरप्पा की यूक्रेन के खारकीव में मौत हो गई थी। नवीन गवर्नर हाउस के पास कुछ अन्य लोगों के साथ खाने का सामान लेने के लिए स्टोर के पास खड़ा था। नवीन उसी समय रूसी सैनिकों की गोलीबारी की चपेट में आ गए।

मोदी के मंत्रियों ने संभाला मोर्चा

पीएम मोदी के चार केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी, किरण रिजिजू, जनरल वीके सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया यूक्रेन के पड़ोसी देशों में पहुंच गए हैं। ये मंत्री अलग-अलग देशों से भारतीय छात्रों की स्वदेश वापसी को सुनिश्चित कर रहे हैं। ताजा अपडेट्स के मुताािबक शुक्रवार यानि 3500 और शनिवार को 3900 लोगों के भारत आने की संभावना है।

Next Story