दुनिया

Russia Ukraine War : डोनाल्ड ट्रंप ने क्यों कहा - पुतिन को स्मार्ट, बाइडेन सहित नाटो नेताओं को बेवकूफ, जानें क्यों?

Janjwar Desk
28 Feb 2022 10:09 AM GMT
Russia Ukraine War : डोनाल्ड ट्रंप ने क्यों कहा - पुतिन को स्मार्ट, बाइडेन सहित नाटो नेताओं को बेवकूफ, जानें क्यों?
x
Russia Ukraine War : राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की कम साधन में जिस तरह सुपरपावर रूस का मुकाबला कर रहे हैं वह देखने लायक है।

Russia Ukraine War : रूस और यूक्रेन के बीच लगातार पांचवें दिन युद्ध जारी है। इस बीच बेलारूस बॉर्डर पर दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर पर बहुत जल्द बातचीत भी शुरू होने वाली है। वहीं अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Former US President Donald Trump ) ने बड़ा बयान देकर सबको चौंका दिया है। उन्होंने कहा कि यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ( Volodimir Zelenski ) के बहादुरी की भी जमकर तारीफ की है।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ( Dinald Trump ) ने यूक्रेन संकट पर राष्ट्रपति जो बाइडेन ( Joe Biden ) और नाटो नेताओं ( NATO Leaders ) पर हमला बोलते हुए कहा कि 2020 के राष्ट्रपति चुनावों में वोटों की चोरी की गई थी। साथ ही उन्होंने कहा कि समस्या यह नहीं है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ( Vladimir Putin ) बहुत स्मार्ट हैं। अहम समस्या यह है कि हमारे नेता यानि जो बाइडेन और नाटो के लीडश्र बेवकूफ हैं। ये बात डोनाल्ड ट्रंप ने फ्लोरिडा के ऑरलैंडो में आयोजित एनुअल पॉलिटिकल एक्शन कॉन्फ्रेंस में कही है। यहां उन्होंने 86 मिनट तक भाषण दिया। इस दौरान काफी समय तक वह बाइडन, रूस और यूक्रेन संकट पर वह बोलते रहे।

ट्रंप ( Trump ) ने होंने अपने भाषण में नाटो नेताओं पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि नाटो मनोवैज्ञानिक तौर पर रूस को घेरने और उसे अलग-थलग करने की जगह आर्थिक प्रतिबंधों तक ही सीमित रह गया।

इसके अलावा डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump ) ने इस युद्ध में अकेले घिरे यूक्रेन की जनता और वहां के राष्ट्रपति जेलेंस्की की खूब तारीफ की। उन्होंने जेलेंस्की को एक बहादुर व्यक्ति बताया है। जेलेंस्की कम साधन में जिस तरह सुपरपावर रूस का मुकाबला कर रहे हैं वह देखने लायक है। इस संकट पर डोनाल्ड ट्रंप का बयान तब आय़ा है जब रूसी सैनिक रॉकेटों से कीव के बाहरी इलाके पर हमला कर कर रहे हैं।

ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने कहा कि वो अपने सहयोगियों और जी-7 के साथ मिलकर यूक्रेन ( Ukraine ) में रूस की कार्रवाई के खिलाफ एकजुट होकर काम कर रहे हैं। हमने रूस को अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सिस्टम से अलग कर दिया है। यूक्रेन में घृणित और क्रूर अभियान के लिए राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ सख्त आर्थिक प्रतिबंध लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

दूसरी तरफ यूरोपीय संघ ने रूसी विमानों के लिए अपने हवाई क्षेत्र को बंद करने और रूसी स्टेट मीडिया प्रसारण पर बैन को लेकर प्रतिबंधों की घोषणा की है। ईयू ने यूक्रेन की सहायता के लिए हथियार खरीदने का भी फैसला लिया है। साथ ही यूक्रेन को हथियारों से मदद के लिए ठोस कदम उठाए जा रहे हैं। इसके अलावा स्विफ्ट इंटरबैंक मैसेजिंग नेटवर्क से कुछ रूसी बैंकों को काटने के साथ रूस के केंद्रीय बैंक के साथ सभी लेनदेन पर बैन लगाने का काम जारी है।

Next Story

विविध