दुनिया

UN Report : अरब देशों में सबसे अधिक कराई जाती है बंधुआ मजदूरी, आधुनिक गुलामी की गिरफ्त में फंसे 5 करोड़ लोग

Janjwar Desk
13 Sep 2022 6:15 AM GMT
UN Report : अरब देशों में सबसे अधिक कराई जाती है बंधुआ मजदूरी, आधुनिक गुलामी की गिरफ्त में फंसे पांच करोड़ लोग
x

UN Report : अरब देशों में सबसे अधिक कराई जाती है बंधुआ मजदूरी, आधुनिक गुलामी की गिरफ्त में फंसे पांच करोड़ लोग 

UN Report : संयुक्त राष्ट्र ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि दुनिया भर में करीब 50 मिलियन लोग जबरन मजदूरी या जबरन शादी में फंस गए हैं, संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी देते हुए कहा कि हाल के वर्षों में इस आंकड़े में नाटकीय रूप से वृद्धि हुई है...

UN Report : अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (International Labour Organization) ने जबरन मजदूरी (Forced Labour) कराए जाने को लेकर वैश्विक स्तर पर अपने आंकड़े जारी किए हैं। जबरन मजदूरी को लेकर कई बार दुनियाभर के बड़े मंचों पर चर्चा हो चुकी है और इसे रोकने के भी उपाय होते रहते हैं। इसी बीच संयुक्त राष्ट्र ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि दुनिया भर में करीब 50 मिलियन लोग जबरन मजदूरी या जबरन शादी में फंस गए हैं। संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी देते हुए कहा कि हाल के वर्षों में इस आंकड़े में नाटकीय रूप से वृद्धि हुई है।

जबरन मजदूरी में 10 मिलियन की वृद्धि

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र ने 2030 तक सभी प्रकार की आधुनिक दासता को समाप्त करने का लक्ष्य रखा था लेकिन इसके बजाय एक नई रिपोर्ट के अनुसार, 2016 और 2021 के बीच जबरन श्रम, जबरन विवाह या बंधुआ मजदूरी में फंसे लोगों की संख्या में 10 मिलियन की वृद्धि हुई। बता दें कि वॉक फ्री फाउंडेशन के साथ संयुक्त राष्ट्र के एक अध्ययन में पाया गया कि पिछले साल के अंत में 28 मिलियन लोग जबरन श्रम में थे जबकि 22 मिलियन जबरन विवाह के शिकार थे।

महिलाएं और बच्चे सबसे ज्यादा असुरक्षित

इसका अर्थ है कि दुनिया में हर 150 में से लगभग एक व्यक्ति गुलामी के आधुनिक रूपों में फंस गया है। बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन के प्रमुख ने एक बयान में कहा कि यह चौंकाने वाला है कि आधुनिक दासता की स्थिति में सुधार नहीं हो रहा है। महिलाएं और बच्चे अब तक सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि पांच में से एक बच्चे बंधुआ मजदूर हैं।

अरब देशों में सबसे अधिक बंधुआ मजदूर

जब जनसंख्या अनुपात की बात आती है, तो यह आंकड़ा अरब देशों में सबसे अधिक (5.3 प्रति हजार लोग) है। इसके बाद यूरोप और मध्य एशिया द्वारा (4.4 प्रति हजार) है। अमेरिका और एशिया और प्रशांत में वैश्विक औसत पर यह आंकड़ा 3.5 प्रति हजार पर समान है जबकि अफ्रीका में यह आंकड़ा 2.9 प्रति हजार है।

जबरन विवाह में फंसे 6.6 मिलियन लोग

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के अनुसार आधुनिक दासता मूल रूप से दुनिया के हर देश में मौजूद है। इसमें आधे से अधिक बंधुआ मजदूरी के मामले और एक चौथाई उच्च-मध्यम आय या उच्च आय वाले देशों में जबरन विवाह के मामले हैं। रिपोर्ट में पाया गया कि 2016 में पिछले वैश्विक अनुमानों के बाद से जबरन विवाह में फंसे लोगों की संख्या में 6.6 मिलियन की वृद्धि हुई थी।

अनिवार्य जेल श्रम का दुरुयोग

सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि रिपोर्ट में कहा गया है कि इसमें से करीब 14 प्रतिशत लोग राज्य के अधिकारियों द्वारा लगाए गए काम कर रहे थे। अमेरिका सहित कई देशों में अनिवार्य जेल श्रम के दुरुपयोग की भी बात सामने आई है। वहीं उत्तर कोरिया में असाधारण रूप से कठोर परिस्थितियों में जबरन श्रम के बारे में संयुक्त राष्ट्र अधिकार कार्यालय द्वारा गंभीर चिंता व्यक्त की है।

Next Story

विविध