Top
दुनिया

जापान में पीएम शिंजो अबे के बाद नंबर दो बने योशीहिदे सुगा, बनेंगे प्रधानमंत्री

Janjwar Desk
14 Sep 2020 8:49 AM GMT
जापान में पीएम शिंजो अबे के बाद नंबर दो बने योशीहिदे सुगा, बनेंगे प्रधानमंत्री
x
जापान की सत्ताधारी पार्टी एलएडी के अध्यक्ष पद के चुनाव में 71 वर्षीय सुगा भारी मतों से विजयी रहे हैं और आने वाले दिनों में देश के प्रधानमंत्री बनेंगे...

जनज्वार। जापान (Japan)की अंदरूनी राजनीति में प्रधानमंत्री शिंजो अबे के बाद योशीहिदे सुगा (Yoshihide Suga) औपचारिक रूप से नंबर दो बन गए हैं। योशीहिदे सुगा (Yoshihide Suga Next Japan Prime Minister) जापान की सत्ताधारी लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलएडी) के अध्यक्ष के चुनाव में 377 अंक हासिल कर वे विजेता बने हैं। वे आने वाले दिनों में प्रधानमंत्री शिंजो अबे की जगह लेंगे। उनसे मुकाबला कर रहे अन्य दो उम्मीदवारों को संयुक्त रूप से उनसे आधे से भी कम मात्र 157 वोट हासिल हुआ है।


प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने पिछले महीने स्वास्थ्य समस्याओं की वजह से अपने इस्तीफे का ऐलान किया था। 71 वर्षीय सुगा अबतक जापान सरकार के प्रमुख प्रवक्ता की भूमिका निभाते रहे हैं। शिंजो अबे जापान में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाले प्रधानमंत्री हैं और सुगा को उनका दायां हाथ माना जाता है। सुगा 2012 में शिंजो अबे के प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही उनके सबसे नजदीकी सहयोगी के रूप में जाने जाते हैं।

प्रधानमंत्री पद के चुनाव में सुगा का मुकाबला जापान के रक्षामंत्री शिगेरू ईसीबा और पूर्व विदेश मंत्री फूमियो किशिदा से था। जापान में प्रधानमंत्री बनने के लिए पहले सत्ताधारी दल के अध्यक्ष पद का चुनाव जीतना होता है और उसके बाद संसद में वोटिग के जरिए औपचारिक रूप से प्रधानमंत्री का चुनाव होता है। शिंजो अबे की पार्टी का कार्यकाल 2021 तक है।


सुगा इस वक्त जापान क मुख्य कैबिनेट सेक्रेटरी के रूप में काम कर रहे हैं। जापान की मुख्य विपक्षी पार्टी ने 16 सितंबर को संसद के असाधारण सत्र बुलाने के लिए सहमति व्यक्त की है, जिसमें नए प्रधानमंत्री का चुनाव किया जा सकता है।

सुगा नए प्रधानमंत्री चुने जाने के लिए उतने ही आश्वस्त हैं जितना पार्टी अध्यक्ष चुने के लिए थे। उन्होंने यह संकेत दिया है कि आर्थिक मोर्चे पर काम करना उनकी प्राथमिकता होगी। हाल ही में उन्होंने एक प्रेस कान्फ्रेंस में कहा था कि जापान कोरोना महामारी के चलते अभूतपूर्व चुनौतियों से जूझ रहा है।

उन्होंने कहा था कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए जो भी आवश्यक कदम होगा वह उठाया जाएगा, साथ ही देश की अर्थव्यवस्था को पुनः पटरी पर लाने की दिशा में काम किया जाएगा।

सुगा ने बड़े ही रणनीतिक ढंग से अपनी पार्टी के अलग-अलग गुटों का समर्थन जुटाया और विरोधी धड़े पर हावी हो गए।

Next Story

विविध

Share it