Top
बिहार चुनाव 2020

बिहार : सुरजेवाला का प्रधानमंत्री के चुनावी दौरे पर तंज, आज विशेष दर्जा देने का साहस दिखा ही दें, पूछे 10 सवाल

Janjwar Desk
23 Oct 2020 7:47 AM GMT
बिहार : सुरजेवाला का प्रधानमंत्री के चुनावी दौरे पर तंज, आज विशेष दर्जा देने का साहस दिखा ही दें, पूछे 10 सवाल
x
कांग्रेस ने कहा है कि मोदी बिहार को विशेष राज्य का जर्दा देने का साहस दिखा दें। कांग्रेस ने बिहार के विकास को लेकर मोदी व भाजपा द्वारा किए गए वादों पर 10 सवाल भी पूछा है...

जनज्वार। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बिहार के पहले चुनावी दौरे पर तंज कसते हुए कहा है कि आज पीएम मोदी बिहार को स्पेशल स्टेट्स यानी विशेष राज्य का दर्जा देने का साहस दिखा ही दें।


रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी क्या आज बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने का साहस दिखा सकेंगे। उन्होंने कहा कि भागलपुर में सेंट्रल यूनिवर्सिटी कहां है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बिहार की 12 करोड़ की आबादी को कई तरह के जवाब देने की जरूरत है। मालूम हो कि बिहार से सालों से विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग उठती रही है। जदयू अध्यक्ष व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके लिए केंद्र पर दबाव बनाने के लिए विशेष अभियान भी चलाया था।

इसके साथ ही रणदीप सिंह सुरजेवाला ने मोदी सरकार व भााजपा से कई सवाल पूछे हैं। सुरजेवाला ने ट्विटर पर सवाल पूछा है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं दिया गया है? मोदी सरकार के मंत्री ने विशेष राज्य का दर्जा क्यों खारिज किाय। नीतीश बाबू अब विशेष राज्य के दर्जे पर चुप क्यों हैं? क्या आप इसकी आज घोषणा करेंगे? सुरजेवाला ने लिखा कि आज प्रधानमंत्री मांग मानें या माफी मांगें।


पीएम मोदी ने कहा पिछले चुनाव में 400 करोड़ की लागत से केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने की घोषणा कर वाहवाही तो खूब लूटी, पर भागलपुर की केंद्रीय यूनिवर्सिटी की एक भी ईंट क्यों नहीं लगी?

कांग्रेस नेता ने पूछा कि 2015 में मोदी की घोषणा के अनुसार, 1550 करोड़ से बिहार में बनने वाली स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी कहां खो गई?

उन्होंने पूछा कि बिहार में बिजली उत्पादन को लेकर पीएम ने झूठ क्यों बोला? बक्सर के चौसा में दस हजार करोड़ की लागत से बनने वाले 1300 मेगावॉट थर्मल पॉवर प्लांट का क्या हुआ? पांच साल में पाँच ईंट भी क्यों नहीं लगी?

कांग्रेस ने पूछा है कि मोदी द्वारा घोषणा की गई 1500 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली पटना की सिक्स लेन रिंग रोड कहां गुम हो गई?

पांच साल में पांच ईंच का भी निर्माण क्यों नहीं हुआ? सुरजेवाला ने पूछा है कि गंगा मैया पर मनिहारी से झारखंड में साहिबगंज को जोड़ने वाले 2000 करोड़ के पुल की घोषणा कर मोदी ने वाहवाही तो खूब लूटी पर इस योजना को ही खत्म क्यों कर दिया गया?

कांग्रेस प्रवक्ता ने यह भी पूछा कि गंगा मैया के ऊपर विक्रमशिला पुल के बराबर 2000 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले पुल की एक ईंट भी क्यों नहीं लगी? गंगा मैया के ऊपर एमजी पुल के समानांतर 3000 करोड़ की लागत से बनने वाले फोर लेन पुल का निर्माण कहां गुम हो गया?

कांग्रेस ने यह भी पूछा कि 4000 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले बिहार में पड़ने वाले श्री राम-जानकी मार्ग तथा उत्तर प्रदेश सीमा से सिवान-मधुबनी-सीतामढ़ी-भारत नेपाल सीमा तक बनने वाली चार लेन सड़क का क्या हुआ?

कांग्रेस ने पूछा कि पीएम मोदी की घोषणा के मुताबिक 5,000 करोड़ की लागत से बनने वाले कोसी पुल तथा उचैत भगवती स्थान से मेसी.तरास्थन को जोड़ने वाले 5000 करोड़ की सड़क कहां खो गई?

रणदीप सुरजेवाला ने यह भी सवाल किया है कि सीता मैया को लेकर मोदी सरकार की बेरुखी क्यों है? सीतामढ़ी के पुरोना में माता सीता के प्राकट्य स्थल परिसर में भगवान राम-माता सीता के जीवन पर बनने वाले संग्रहालय से मोदी सरकार ने इंकार क्यों कर दिया?

Next Story
Share it