Top
बिहार चुनाव 2020

पटना में नड्डा-नीतीश की हुई मुलाकात, क्या एनडीए के घटक दलों की सीटें हो गईं फाइनल!

Janjwar Desk
12 Sep 2020 10:21 AM GMT
पटना में नड्डा-नीतीश की हुई मुलाकात, क्या एनडीए के घटक दलों की सीटें हो गईं फाइनल!
x

मुख्यमंत्री आवास में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, बीजेपी सांसद भूपेंद्र यादव और जदयू सांसद ललन सिंह (Photo:social Media)

नड्डा आज पटना के पटनदेवी मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 1, अणे मार्ग स्थित सरकारी आवास पर गए। उनके साथ पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जयसवाल तथा उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी थे....

जनज्वार ब्यूरो, पटनाबीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ चिरप्रतीक्षित मुलाकात आज 12 सितंबर को हो गई है। माना जा रहा है कि इस मुलाकात के बाद बिहार विधानसभा चुनाव के लिए एनडीए में सीट शेयरिंग का मुद्दा सुलझ जाएगा। वैसे नड्डा ने एक बार फिर दुहरा दिया है कि एनडीए बिहार चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही लड़ेगी।

नड्डा आज पटना के पटनदेवी मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 1, अणे मार्ग स्थित सरकारी आवास पर गए। उनके साथ पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जयसवाल तथा उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी थे।

उधर मुख्यमंत्री के साथ सांसद ललन सिंह भी मौजूद थे। यह मुलाकात तकरीबन एक घँटे तक चली। मुलाकात में एनडीए के घटक दलों के बीच सीट शेयरिंग को लेकर लंबी बातचीत हुई।

पिछले कुछ समय से ऐसी खबरें सामने आ रही थीं कि जदयू की इच्छा है कि बीजेपी और उसके बीच सीटें बराबर-बराबर बांटी जाएं और जदयू अपनी सीट में से जीतनराम मांझी की हम पार्टी के लिए तथा बीजेपी अपने कोटे में से लोजपा के लिए सीटें दे।

ऐसे में जेपी नड्डा और नीतीश कुमार की यह मुलाकात काफी अहम थी और चर्चा है कि इस मुद्दे का कोई न कोई रास्ता निकाल लिया गया है।

इससे पहले जेपी नड्डा 11 सितंबर की शाम पटना पहुंचे थे। पटना एयरपोर्ट से वे सीधे पार्टी दफ्तर गए थे और वहां बीजेपी चुनाव संचालन समिति के बैठक की अध्यक्षता की थी।

बैठक में क्या कुछ हुआ, इसकी कोई अधिकृत जानकारी। तो पार्टी ने मीडिया के साथ शेयर नहीं किया है, पर पार्टी के अंदरूनी सूत्र बताते हैं कि इसमें कई मुद्दों को लेकर चर्चा हुई। खासकर विधानसभा चुनावों में पार्टी की सीटों, लोजपा के रुख और चुनाव में मुख्य मुद्दा क्या हो, इसपर मंथन किया गया।

Next Story

विविध

Share it