Top
बिहार चुनाव 2020

सचिन पायलट का बीजेपी पर हमला, काम की अपेक्षा जाति-धर्म और संप्रदाय के आधार पर वोट मांगना आसान

Janjwar Desk
29 Oct 2020 9:40 AM GMT
सचिन पायलट का बीजेपी पर हमला, काम की अपेक्षा जाति-धर्म और संप्रदाय के आधार पर वोट मांगना आसान
x
सचिन पायलट ने पटना में एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि वर्तमान सरकार सभी मोर्चों पर विफल रही है, तभी तो उसे चुनाव में विपक्ष के तय एजेंडे पर चलना पड़ रहा है...

जनज्वार ब्यूरो, पटना। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट ने कहा कि एनडीए बिहार में चुनाव हार चुकी है। न तो उसके पास मुद्दा है, न संकल्प। एनडीए की सरकार ने 15 वर्षों तक कोई काम नहीं किया, जिसे लेकर जनता के बीच जा सके। उन्होंने दावा किया कि महागठबंधन के पक्ष में लोग एकजुट हैं और इस सरकार को बदलना चाहते हैं।

सचिन पायलट ने पटना में एक प्रेस कांफ्रेंस में बिहार के काँग्रेस-राजद-वामपंथी गठबंधन को जिताने की अपील की। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार सभी मोर्चों पर विफल रही है, तभी तो उसे चुनाव में विपक्ष के तय एजेंडे पर चलना पड़ रहा है।

सचिन पायलट ने महागठबंधन और कांग्रेस के घोषणा पत्र के मुख्य बिंदुओं का उल्लेख करते हुए कहा कि हमारी सरकार बनी तो हम घोषणा पत्र के अनुसार समयबद्ध तरीके से अपने किए गए वादों को पूरा करेंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सीधा हमला करते हुए उन्होंने कहा कि आप एक कमजोर नेता हैं, इसलिए अपने 15 साल के कार्यकाल की बात नहीं करते, बल्कि उससे पहले के 15 साल के कार्यकाल की बात करते हैं। आपमें आत्मविश्वास नहीं है। आत्मविश्वास होगा भी कहां से, जब अपने 5 साल कोई काम ही नहीं किया है। आपको अपने कार्यकाल का श्वेतपत्र जारी करना चाहिए।

अपरोक्ष रूप से बीजेपी पर निशाना साधते हुए पायलट ने कहा कि जाति, धर्म और संप्रदाय के आधार पर वोट मांगना आसान होता है, पर काम के आधार पर वोट मांगना कठिन होता है, चूंकि काम के आधार पर वोट पाने के लिए काम भी करना होता है, जो आपने किया नहीं है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा और विधान पार्षद व प्रवक्ता प्रेम चन्द्र मिश्रा भी मौजूद थे।

Next Story

विविध

Share it