Top
बिहार चुनाव 2020

शरद यादव की बेटी की आज मधेपुरा के बिहारीगंज से पाॅलिटिकल लांचिंग, करेंगी नामांकन

Janjwar Desk
19 Oct 2020 2:00 AM GMT
शरद यादव की बेटी की आज मधेपुरा के बिहारीगंज से पाॅलिटिकल लांचिंग, करेंगी नामांकन
x
सुभाषिनी अपने पिता के नाम पर लोगों से कनेक्ट होने की कोशिश कर रही हैं। वे खुद को क्रांतिकारी व अनुभवी पिता की बेटी होने की बात कहते हुए लोगों से समर्थन मांग रही हैं...

जनज्वार। बेटे-बेटी, भाई-भतीजे से सजी भारतीय राजनीति में सोमवार को एक और बड़े नेता की संतान का प्रवेश हो रहा है। देश के शीर्ष समाजवादी नेताओं में शुमार किए जाने वाले शरद यादव की बेटी सुभाषिनी शरद यादव आज मधेपुरा जिले की बिहारीगंज सीट से अपना पर्चा दाखिल करेंगी। सुभाषिनी कांग्रेस की प्रत्याशी के तौर पर अपना पर्चा भरेंगी।

सुभाषिनी को कांग्रेस ने मधेपुरा से चुनाव का टिकट दिया है और उन्होंने रविवार को लालू परिवार के सदस्यों से पटना में मुलाकात की। सुभाषिनी यादव ने इस संबंध में ट्विटर पर लिखा : बिहारीगंज से महागठबंधन की प्रत्याशी बनाए जाने के बाद नामांकन पूर्व हम सभी की मार्गदर्शक बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और पूर्व मंत्री तेज प्रताप भैया से शिष्टाचार भेंट की। मां तुल्य राबड़ी देवी ने हौसला बढाते हुए इस युद्ध में विजयी भवः का आशीर्वाद दिया।



सुभाषिनी बिहारीगंज से उम्मीदवार को लेकर पहले से ही क्षेत्र में जनसंपर्क कर रही थीं। मीडिया में इस आशय की भी खबरें आती रहीं हैं कि बदली हुई राजनैतिक परिस्थितियों में लालू प्रसाद यादव एवं शरद यादव के बीच की दूरी कम हुई है। हालांकि इस बीच जदयू ने अस्वस्थ चल रहे शरद यादव से दूरी कम करने की कवायद की और यह खबरें भी आयीं कि शरद फिर जदयू से जुड़ सकते हैं और इसके एवज में जदयू उनकी राज्यसभा सदस्यता को चुनौती देने के मामले को वापस ले सकता है।

सुभाषिनी यादव ने कहा है कि वे अनुभवी व क्रांतिकारी पिता की बेटी हैं और उनके द्वारा चलाए गए विकास कार्याें को आगे बढाएंगी। उन्होंने कहा है कि बिहारीगंज पर देश की नजर है और परिवर्तन की शुरुआत इसी धरती से होगी।

मालूम हो कि शरद यादव लोकसभा में बिहारीगंज का प्रतिनिधित्व करते रहे हैं। हालांकि पिछली बार वे जदयू प्रत्याशी से हार गए। सुभाषिनी सोमवार को एक बजे अपना नामांकन दाखिल करेंगी।

अस्वस्थ चल रहे शरद यादव ने की अपील

बीमार चल रहे शरद यादव ने अपनी बेटी के लिए मधेपुरा व बिहारीगंज की जनता से अपील की है। इसके लिए उनके कार्यालय की ओर से उनके नाम से एक पत्र जारी किया गया है। वहीं, शरद यादव के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर लिखा गया है: मधेपुरा की जीवन भर सेवा करने के बाद मेरी बेटी ने मधेपुरा क्षेत्र के बिहारीगंज की सेवा का बीड़ा उठाया है। मैं अस्वस्थ होने के चलते स्वयं बिहारीगंज नहीं पहुंच सकता लेकिन सुभाषिनी के नामांकन पूर्व आपसे एक भावनात्मक अपील करना चाहता हूं।

शरद यादव ने पत्र में कहा है कि सुभाषिनी कांग्रेस के टिकट पर महागठबंधन की उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रही हैं। उन्होंने कहा कि अब वे सिर्फ उनकी नहीं बल्कि आप सब की बेटी हैं और बिहारीगंज के विकास की जिम्मेवारी उन्होंने उठायी है। शरद यादव ने लोगों से कहा है कि वे अस्वस्थ हैं इसलिए बिहारीगंज नहीं आ सकते लेकिन उनकी बेटी विकास के वादे को पूरा करेंगी इसलिए उन्हें वोट देकर विजयी बनाएं।






Next Story

विविध

Share it