Top
बिहार चुनाव 2020

बिहार में BJP विधायक ने त्यागा अन्न और पार्टी पर लगाये गंभीर और सनसनीखेज आरोप

Janjwar Desk
9 Oct 2020 6:08 AM GMT
बिहार में BJP विधायक ने त्यागा अन्न और पार्टी पर लगाये गंभीर और सनसनीखेज आरोप
x

अमनौर के बीजेपी विधायक शत्रुघ्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा 

अमनौर बीजेपी के दो राष्ट्रीय प्रवक्ताओं राजीव प्रताप रूडी और संजय मयूख का गृह क्षेत्र भी है, विधायक चोकर बाबा ने सांसद राजीव प्रताप रूडी को सीधे निशाने पर ले लिया और कई तरह के आरोप लगाते हुए खूब खरी-खोटी सुनाई, विधायक के निशाने पर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी मंत्री भी रहे....

जनज्वार ब्यूरो, पटना। राजनीतिक शुचिता का दावा करने वाली बीजेपी के एक विधायक ने पार्टी पर गंभीर आरोप लगाते हुए अन्न त्याग दिया है। बिहार चुनावों को लेकर अभी सभी दलों में टिकट बंटवारे का दौर चल रहा है। इस क्रम में कई सिटिंग विधायकों के टिकट भी पार्टियों द्वारा काट दिए जाते हैं और उसके बाद उनके समर्थकों में स्वाभाविक रूप से आक्रोश हो जाता है। यह राजनीति में सामान्य सी बात है।

पर अमनौर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक शत्रुघ्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा का टिकट क्या कटा अमनौर की राजनीति में भूचाल आ गया है। चूंकि विधायक ने टिकट कटने के बाद अब आजीवन अन्न ग्रहण न करने की बात कह दी है और सिर्फ फलाहार पर रहने की घोषणा की है। विधायक ने इसमें सीधे तौर पर पैसे के खेल का भी गंभीर आरोप लगाया है और कहा कि अब पार्टी में पहले वाली बात नहीं रही। अमनौर बीजेपी के दो राष्ट्रीय प्रवक्ताओं राजीव प्रताप रूडी और संजय मयूख का गृह क्षेत्र भी है।

जनज्वार से बात करते हुए अमनौर विधायक शत्रुघ्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा कहते हैं 'उनका टिकट सिर्फ इसलिए काट दिया गया, क्योंकि वे गरीबों के बीच रहते हैं और गरीबों की सेवा करते हैं। उनकी लगातार बढ़ रही लोकप्रियता से क्षेत्र के बड़े नेताओं, यानि सांसद राजीव प्रताप रूडी को खतरा महसूस होने लगा था, इसलिए उन्होंने टिकट कटवा दी और एक ऐसे व्यक्ति को टिकट दिलवा रहे हैं जिसपर गंभीर मामलों में कई मुकदमे दर्ज हैं। अब वे आजीवन अन्न ग्रहण नहीं करेंगे।'

वैसे तो चुनावों के बीच किसी का टिकट कटना और दूसरे को मिल जाना सामान्य सी बात है, लेकिन विधायक के विरोध का यह तरीका हैरानी में डालने वाला है। हालांकि, विधायक का इस बारे में अपना अलग ही तर्क है।

विधायक चोकर बाबा ने सांसद राजीव प्रताप रूडी को सीधे निशाने पर ले लिया और कई तरह के आरोप लगाते हुए खूब खरी-खोटी सुनाई। विधायक के निशाने पर मंत्री मंगल पांडे और सुशील मोदी भी रहे।

उन्‍होंने कहा 'भाजपा ने उसे ही टिकट दिया जिसे पिछली बार उन्होंने हराया था। उसे दो दिन पहले पार्टी की सदस्यता दिलाई गई। जबकि वे सिटिंग विधायक हैं और चुनाव की तैयारियों में जुटे हुए थे। क्षेत्र की जनता के बीच में लगातार बाढ़ में भी काम कर रहे थे। उनके द्वारा चलाई गई रसोई से हजारों लोगों को भोजन मिला जिसके कारण क्षेत्र में उनकी लोकप्रियता लगातार बढ़ी। यही बात सांसद को खटकने लगी जिसके कारण उनका टिकट कटवा दिया गया।'


Next Story

विविध

Share it