Top
अंधविश्वास

हाथ चूमकर कोरोना ठीक करने का दावा करता था असलम बाबा, संपर्क में आने वाले 19 लोग पॉजिटिव

Janjwar Desk
11 Jun 2020 10:42 AM GMT
हाथ चूमकर कोरोना ठीक करने का दावा करता था असलम बाबा, संपर्क में आने वाले 19 लोग  पॉजिटिव
x
नयापुरा इलाका अब कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बन गया है। नयापुरा और लोहार रोड केंटेनमेंट एरिया आस पास हैं। इन दोनों ही इलाकों से कोरोना संक्रमण के आधे मामले सामने आये हैं।

जनज्वार ब्यूरो, रतलाम। मध्यप्रदेश के रतलाम शहर के नयापुरा इलाके से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है जहां झाड़ फूंक करने वाले असलम बाबा की मौत के बाद उसके संपर्क में आए लोगों के पॉजिटिव निकलने का सिलसिला जारी है। असलम बाबा लोगों के हाथ चूमकर कोरोना महामारी का इलाज करने का दावा किया करता था। असलम बाबा के सीधे संपर्क में आने से 19 लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर है।

बरों के मुताबिक स्थिति यहां तक पहुंच गई है कि नयापुरा इलाका अब कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बन गया है। नयापुरा और लोहार रोड केंटेनमेंट एरिया आस पास हैं। इन दोनों ही इलाकों से कोरोना संक्रमण के आधे मामले सामने आये हैं।

हीं मंगलवार की रात को रतलाम जिले में 24 मामले सामने आने के बाद स्थिति और भयावह हो गई। कुछ लोग असलम बाबा के पास कोरोना का इलाज कराने पहुंचे थे। बाबा लोगों के हाथ चूमकर दुआ देकर कोरोना भगाने का दावा करता था।

सलम बाबा की 4 जून को खुद कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। इसके बाद लोगों को क्वारंटीन किया गया। जब कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की गई तो नयापुरा में छह पॉजिटिव मामले सामने आ गए। जिले में अबतक कुल 85 मामले सामने आए हैं।

बुधवार 10 जून को 24 पॉजिटिव मामले सामने आए, इनमें से नयापुरा के 13 लोग मरीज ऐसे हैं जिनका असलम बाबा से सीधे संपर्क हुआ था।

बरों के मुताबिक नयापुरा में जिस इलाके में असलम बाबा की कोरोना संक्रमण से मौत हुई वहां अबतक 50 सैंपल लिए जा चुके हैं और 200 से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग की गई है।

कोविड 19 नोडल अधिकारी डॉ. प्रमोद प्रजापति ने बताया कि पहली बार 24 संक्रमित एक साथ सामने आए हैं। इनमें अधिकांश बाबा के संपर्क में थे। लोग बाबा से कोरोना के लिए झाड़ फूंक कराने भी गए थे। जिले में अब तक 35 मरीजों को छुट्टी दे दी गई है। चार की मौत हो चुकी है। एक्टिव केस 46 हैं।

Next Story

विविध

Share it