अंधविश्वास

Bihar Crime News : तंत्र-मंत्र की सिद्धि के लिए पिता ने चढ़ाई अपनी बेटी की बलि, शमशान में दफनाया शव

Janjwar Desk
10 May 2022 12:45 PM GMT
Bihar Crime News : तंत्र-मंत्र की सिद्धि के लिए पिता ने चढ़ाई अपनी बेटी की बलि, शमशान में दफनाया शव
x

Bihar Crime News : तंत्र-मंत्र की सिद्धि के लिए पिता ने चढ़ाई अपनी बेटी की बलि, शमशान में दफनाया शव

Bihar Crime News : बिहार (Bihar Crime News) के सीतामढ़ी (Sitamashi) जिले में एक पिता ने अपनी ही 12 साल की मासूम बेटी की बलि चढ़ा दी, बेटी की निर्शंस हत्या के बाद हैवान पिता ने अपनी बेटी के शव को दफना दिया लेकिन घर में गिरे खून के धब्बों ने राज खोल दिया...

Bihar Crime News : बिहार (Bihar Crime News) से अपराध की दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। बता दें कि बिहार (Bihar Crime News) के सीतामढ़ी (Sitamashi) जिले में एक पिता ने अपनी ही 12 साल की मासूम बेटी की बलि (Daughter sacrificed in Sitamarhi) चढ़ा दी। बेटी की निर्शंस हत्या के बाद हैवान पिता ने अपनी बेटी के शव को दफना दिया लेकिन घर में गिरे खून के धब्बों ने राज खोल दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आरोपी की तीन बेटियां हैं। आरोपी को बेटियां पसंद नहीं है इसलिए उसने अपनी एक बेटी को मार डाला।

यह है पूरा मामला

बता दें कि यह दिल दहला देने वाली घटना बिहार (Bihar Crime News) के सीतामढ़ी जिले के कुष्मारी पंचायत के फलौरिया टोला में हुआ है। इस घटना का पता तब चला, जब घर से बच्ची के गायब होने के खबर फैली। आसपास की बस्तियों व टोलों में भी यह बात फैली। इसके बाद गांव के बाहर एक शव जलाए जाने की खबर मिली। इसके बाद गांव के लोगों ने बताया कि गांव का इंदल महतो झाड़फूंक करने वालों व तांत्रिकों के चक्कर में रहता है। लापता बेटी उसी की है, इसलिए उस पर ही शक है।

शमशान घाट में दफनाया शव

इंदल महतो ने अपनी अंधी मान्यता को पूरा करने के लिए अपनी मासूम बेटी के ही बलि चढ़ा दी। बलि चढ़ाने के बाद पिता ने शमशान घाट में ले जाकर अपनी पुत्री को मिट्टी के नीचे गाड़ दिया। जब ग्रामीणों को इस बात का संदेह हुआ तो वे खुदाई करने लगे। वहां से बच्ची का शव बरामद हुआ। इसके बाद स्थानीय लोगों ने इसकी सुचना पुलिस को दे दी। पुलिस ने महतो को शक के आधार पर गिरफ्तार कर लिया। उससे पूछताछ की जा रही है।

विशेष शक्ति प्राप्त करना चाहता था पिता

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पेशे से मजदूर इंदल महतो तंत्र सिद्धि के लिए देवी को प्रसन्न करना चाहता था। उसका मानना था कि बलि देने से देवी प्रसन्न होंगी और उसे विशेष शक्ति का लाभ होगा। अपनी इसी लालसा को पूरा करने के लिए आरोपी ने मासूम बेटी की बलि दे दी।

पिता देता था बेटियों की हत्या की धमकी

आरोपी इंदल की पत्नी ने पुलिस को बताया कि उसके पति को बेटियां पसंद नहीं थी। वह अक्सर उनके शादी-ब्याह को लेकर परेशान रहता था। कहा करता था कि बेटियों को जान से मार देंगे। महतो की तीन बेटियां थी। बड़ी की शादी हो चुकी है। छोटी बेटी को लेकर पत्नी मायके गई थी। तीसरी बेटी घर में पिता के साथ थी। इसी दौरान उसने उसकी नृशंस हत्या कर दी।


(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू—ब—रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story

विविध