अंधविश्वास

Bihar Rumors : सीतामढ़ी में बिस्किट को लेकर फैली अजीबोगरीब अफवाह, 5 वाला Parle-G 50 रूपये में खरीद रहे लोग

Janjwar Desk
2 Oct 2021 6:29 PM GMT
bihar news
x

(5 वाला पार्लेजी बिस्किट लोग ब्लैक में खरीद रहे)

Bihar Rumors : दुकानों के बाहर लोगों की लंबी-लंबी कतारें देखने को मिली। जिले में अफवाह कैसे फैलीं इसका अभी पता नहीं चल पाया है। अफवाहों के बाद बिस्किट की बिक्री काफी बढ़ गई...

Bihar Rumors (जनज्वार) : बिहार में एक त्योहार को लेकर अजीब अफवाह सामने आई है जो जंगल में आग की तरफ फैल रही है। यह अफवाह बिहारी त्योहार जितिया (jitiya) से जुड़ी है। इस अफवाह के मुताबिक अगर लड़के जितिया पर पार्ले-जी (Parle-G) बिस्किट खाने से मना करते हैं, तो भविष्य में उनके साथ कोई अप्रिय घटना हो सकती है।

सीतामढ़ी के एसपी हर किशोर राय ने इस घटना की पुष्टि भी की है। बता दें बिहार में हर वर्ष जितिया (Jitiya-2021) उत्सव मनाया जाता है। जहां माताएं अपने बच्चों के लंबे, स्वस्थ और समृद्ध जीवन के लिए 24 घंटे व्रत रखती हैं।

सीतामढ़ी जिले के कुछ जगहों पर गुरुवार को पार्ले-जी बिस्किट को लेकर अफवाह उड़ी। जानकारी के मुताबिक दुकानों के बाहर लोगों की लंबी-लंबी कतारें देखने को मिली। जिले में अफवाह कैसे फैलीं इसका अभी पता नहीं चल पाया है। अफवाहों के बाद बिस्किट की बिक्री काफी बढ़ गई है।

पार्ले-जी का कम से कम एक पैकेट खरीदने के लिए लोग बड़ी संख्या में किराने की दुकानों, पान की दुकानों और स्टॉक रखने वाली अन्य दुकानों के पास पहुंचे। जब लोगों से पूछा गया कि वे उसे क्यों खरीद रहे हैं? तो अधिकांश का कहना था कि उन्हें पता चला कि पार्ले जी बिस्किट नहीं खाने से अनहोनी हो सकती है। दुकानदारों ने भी बताया कि लोग सिर्फ पार्ले-जी बिस्किट मांग रहे हैं।

बताया जा रहा है कि, अफवाहों के कारण पार्ले-जी के शेयर तेजी से बंद हो गए। कई दुकानदार कथित तौर पर कालाबाजरी में शामिल थे। सीतामढ़ी जिले में बिस्किट का 5 रुपए का पैकेट 50 रुपए में बिका। मूल रूप से ग्रामीण क्षेत्रों जैसे बरगनिया, ढेह, नानपुर, बाजपट्टी, मेजरगंज और जिले के कुछ अन्य ब्लॉकों में फैलीं।

अब जिले की इन जगहों पर स्थानीय प्रशासन लोगों को समझाने का प्रयास कर रहा है। लोगों से अपील की जा रही है कि इस तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें। साथ ही उन लोगों का भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है जिन्होंने इस तरह की बातों को समाज में फैलाया है।

Next Story

विविध

Share it