अंधविश्वास

Blind Faith Murder: भतीजे ने फिरौती देकर चाची को गोलियों से भुनवाया, पिता की तंत्र-मंत्र से मौत के शक में कराई हत्या

Janjwar Desk
25 Nov 2021 7:50 AM GMT
Blind Faith Murder: भतीजे ने फिरौती देकर चाची को गोलियों से भुनवाया, पिता की तंत्र-मंत्र से मौत के शक में कराई हत्या
x

बाइक पर सवार तीन बदमाश आए और महिला पर गोलियां बरसाने लगे (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Blind Faith Murder: आरोपी भतीजे चरनजीत को शक था कि उसकी चाची तंत्र मंत्र जानती है और इसी कारण पिछले साल उसके पिता की मौत हो गई थी...

Blind Faith Murder: बुलंदशहर के जहांगीराबाद क्षेत्र में तंत्र-मंत्र (Occultt) के शक में भतीजे ने फिरौती देकर अपनी चाची की हत्या करवा दी। युवक के पिता की मौत के बाद उसे चाची द्वारा तंत्र मंत्र करने का शक था। भाड़े के बदमाशों को दो लाख देकर से भतीजे ने चाची पर गोलियों बरसाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद बदमाश भागने लगे तभी परिजनों ने एक को दबोच लिया। पुलिस ने महिला को शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, आरोपी भतीजा और अन्य दो बदमाशों फरार है। पुलिस इनकी तलाश में जुटी है।

जानकारी के अनुसार, यूपी के बुलंदशहर (Bulandhshahar) के जहांगीरबाद थाना क्षेत्र अंतर्गत जटवाई गांव निवासी मुकेश प्रजापति की पत्नी अनीता (38वर्ष) बुधवार, 24 नवंबर तड़के हर रोज की तरह अपने घर में भैंस का दूध काढ़ रही थी। उसी दौरान एक बाइक पर आए तीन युवक दूध लेने के बहाने पहुंचे। युवकों ने दूध काढ़ती अनीता पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। अनीता ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। फायरिंग की आवाज सुनकर मौके पर परिजनों पहुंचे और भाग रहे एक बदमाश को दबोच लिया, जबकि अन्य दो बदमाश फरार होने में कामयाब हो गए।

चाची पर था तंत्र मंत्र करने का शक

हत्या की सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और पकड़े गए बदमाश को हिरासत में लिया। पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसएसपी ने बताया कि पकड़े गए बदमाश ने खुलासा किया कि मृतका के जेठ के पुत्र चरनजीत उर्फ चिंटू ने उनसे दो लाख रुपये में हत्या का सौदा किया था। आरोपी चरनजीत को शक था कि उसकी चाची तंत्र मंत्र जानती है। पिछले साल चरनजीत के पिता की मौत हो गई थी। आरोपी युवक को लगता था कि पिता की मौत चाची यानि मृतका द्वारा किए गए तंत्र-मंत्र की वजह से ही हुई है। बताया जा रहा है कि मृत महिला के पड़ोस में रहने वाले जेठ की बीते साल कैंसर के कारण मौत हो गई थी।

मर्डर के लिए दो लाख की फिरौती

एसएसपी ने बताया कि आरोपी भतीजे ने अपनी चाची की हत्या कराने के लिए तीन बदमाशों को दो लाख रुपये में हायर किया था। तीनों बदमाशों को 50 हजार रुपये एडवांस में मिल गए थे, जबकि बाकि के पैसे काम पूरा होने के बाद देने की बात हुई था।

एक सप्ताह पहले से मारने की थी योजना

पुलिस ने बताया कि तीनों बदमाश मर्डर के एक हफ्ते पहले से महिला के घर पर दूध लेने पहुंच रहे थे। इसके पीछे बदमाशों का मकसद आसपास की पूरी स्थितियों को भांपना था। बुधवार 24 नवंबर को मौका देखकर तीनों बदमाश एक बाइक पर सवार होकर दूध लेने पहुंचे और जैसे ही महिला दूध काढ़ने लगी तो उन्होंने गोलियां बरसानी शुरू कर दी गई। गोलियों की आवाज सुनकर परिजन भागे भागे आए और ग्रामीणों की मदद से एक बदमाश को दबोच लिया। पकड़े गए बदमाश की पहचान अनूपशहर नेहरूगंज निवासी प्रेमपाल के बेटे रोहित के रूप में हुई है।

मामले को लेकर एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि, 'महिला की हत्या के मामले में एक आरोपी को दबोच लिया गया है। भतीजे ने अपने पिता की मृत्यु तंत्र-मंत्र के चलते होने के शक में महिला की हत्या को भाड़े के हत्यारों से अंजाम दिलाया था। आरोपी भतीजे और अन्य दो बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई की जा रही है।'

Next Story

विविध

Share it