अंधविश्वास

Chhattisgarh Crime News : तांत्रिक ने जादू-टोने का डर दिखाकर कारोबारी को दी जान से मारने की धमकी, पुलिस ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

Janjwar Desk
22 Oct 2022 1:18 PM GMT
Chhattisgarh Crime News : तांत्रिक ने जादू-टोने का डर दिखाकर कारोबारी को दी जान से मारने की धमकी, पुलिस ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार
x

Chhattisgarh Crime News : तांत्रिक ने जादू-टोने का डर दिखाकर कारोबारी को दी जान से मारने की धमकी, पुलिस ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

Chhattisgarh Crime News :

Chhattisgarh Crime News : छत्तीसगढ़ के दुर्ग में जादू-टोने के नाम पर ठगी करने का मामला सामने आया है। व्यावसायिक मित्र को आगे बढ़ता हुआ देख ईर्ष्या के कारण जादू टोना कर मार देने के लिए 10 लाख रुपए की सुपारी देने का मामला सामने आया है लेकिन सुपारी लेने वाले तांत्रिक ने ही उलट शिकार व्यक्ति से ही उगाही के लिए 11 लाख रुपए की मांग कर डाली। पीड़ित की रिपोर्ट पर सुपेला पुलिस के द्वारा कार्रवाई करते हुए तांत्रिक सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। षड्यंत्रकारी आरोपित, तांत्रिक और दो अन्य के खिलाफ टोनही एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। बता दें कि पूरे मामले को सुपेला पुलिस द्वारा महज 16 घंटे में ही हल कर लिया गया। जमीन कारोबारी (बिजनेस पार्टनर) ही सुपारी देने वाला निकला। सभी आरोपितों को शुक्रवार को न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

जादू टोने से मारने की धमकी देकर ठगी

इस मामले में पुलिस अधीक्षक दुर्ग डॉक्टर अभिषेक पल्लव का कहना है कि पीड़ित संजीव सिंह निवासी आर्य नगर कोहका द्वारा 20 अक्टूबर को थाना सुपेला रिपोर्ट दर्ज कराया कि विगत 2-3 दिनों से इनके मोबाइल में एक नंबर से बार-बार फोन आ रहा है, जो धमकाते हुए कह रहा है कि तुमको जादू-टोना करके मारने के लिए 10 लाख रुपये में सुपारी मिली है। यदि 11 लाख रुपये दे देते हो तो तुमको नहीं मारूंगा। पीड़ित ने अंत में सुपेला थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई। मामला काफी गंभीर व संवेदनशील था, इसलिए घटना के तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया तथा उनके निर्देशन पर थाना प्रभारी सुपेला निरीक्षक दुर्गेश कुमार शर्मा के नेतृत्व में विशेष टीम बनाई गई।

बिजनेस पार्टनर ने ही दी थी जान से मारने की सुपारी

इसके बाद पुलिस टीम द्वारा जाल बिछाकर फोन पर धमकी देने वाले आरोपित संतोष मिर्ची को पैसे देने के बहाने दुर्ग बस स्टैण्ड बुलाकर पकड़ा गया। आरोपित संतोष मिर्ची झाड़-फूक का काम करता है। जिनके कब्जे से नीबू, मिर्ची, बंदन, कच्चा धागा, सात पुराने तांबा का सिक्का व मोबाइल बरामद किया गया है। आरोपित संतोष ने अपना जुर्म स्वीकारते हुए बताया कि इसे अब तक 55 हजार रुपये अजय कोसरे ने संजीव सिंह को जादू-टोना कर मारने की सुपारी दी थी। इसके निशानदेही पर आरोपित अजय कोसरे को पकड़ा गया। आरोपित अजय कोसरे के मोबाइल चेक किया गया, जिसमें इन्द्रकुमार महिलांग द्वारा पीड़ित संजीव सिंह को मारने के लिए फोटो व नाम पता भेजा है।

पुलिस ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

वहीं इस मामले में आरोपित इन्द्रकुमार महिलांग के द्वारा बतौर एक लाख रुपये एडवांश के तौर पर रकम अजय कोसरे को दिया था। बचत रकम कार्य पूर्ण होने के पश्चात देना था। अजय कोसरे की निशानदेही पर आरोपित इन्द्रकुमार महिलांग एवं अशोक मौर्या को पकड़ा गया। जिनसे पूछताछ करने पर अपना जुर्म स्वीकार किये। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आरोपित अशोक मौर्या एवं पीड़ित संजीव सिंह जमीन खरीद बिक्री के पार्टनर थे तथा अशोक मौर्या का काम सही तरीके से नहीं चलने के कारण तथा संजीव सिंह का कारोबार दिन प्रतिदिन बढ़ते देखकर उसको जादू-टोना के माध्यम से मरवाने का प्लान तैयार कर आरोपीगणों को 10 लाख रुपये में सुपारी दिया था। सुपेला पुलिस की तत्परता से आरोपीगणों को 16 घंटे के अंदर ही पकड़ लिया गया तथा आज गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड में जेल भेजा गया।

Next Story

विविध