Top
अंधविश्वास

झारखंड के गुमला में भाई की बीमारी से हो गई मौत तो डायन के संदेह में वृद्धा की कर दी हत्या

Janjwar Desk
6 Dec 2020 5:03 AM GMT
झारखंड के गुमला में भाई की बीमारी से हो गई मौत तो डायन के संदेह में वृद्धा की कर दी हत्या
x

प्रतीकात्मक फोटो।

हत्या करने का आरोपी घटना के बाद से फरार है। उसके भाई की एक साल पहले बीमारी से मौत हुई थी, जिसके बाद उसने वृद्धा की हत्या कर दी...

जनज्वार। झारखंड के गुमला जिले के सदर थाना क्षेत्र के कोयनारा चानेटोली गांव में एक 70 वर्षीया वृद्धा की हत्या डायन होने के संदेह में कर दी गई। घटना शुक्रवार, पाच दिसंबर 2020 रात की है।

70 वर्षीया बुजुर्ग महिला करमी उराइन की टांगी से काट कर हत्या की गई। परिवार वालों ने इस हत्या का आरोप गांव के फेकू उरांव पर लगाया है। हत्या के बाद से फेकू उरांव गांव से फरार है।

जानकारी के अनुसार, फेकू उरांव के भाई चैतू उरांव की एक साल पहले बीमारी से मौत हो गई। भाई की मौत के बाद से फेकू उरांव को यह संदेह था कि उसके भाई की मौत करमी उराइन द्वारा डायन-बिसाही किए जाने से हुई है। इसी अंधविश्वास में शुक्रवार की रात्रि उसने बुजुर्ग महिला की टांगी से काट कर हत्या कर दी।

शनिवार सुबह घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। शव पोस्टामार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया गया।

उधर, इस मामले में मृतका के बेटे वीर उरांव ने गुमला थाना में लिखित शिकायत दी है जिसमें फेकू उरांव को आरोपी बताया गया है। शिकायत पत्र में कहा गया है कि डायन बिसाही के संदेह में फेकू उरांव ने उसकी मां की हत्या की।

वीर उरांव रांची में मजदूरी का काम करता है, जब उसे अपनी मां की हत्या की सूचना मिली तब वह गांव पहुंचा। उसने कहा है कि जब उसकी मां तालाब गई थी तभी टांगी से काट कर उनकी हत्या की गई।

Next Story

विविध

Share it