अंधविश्वास

Jharkhand Crime News : डायन का आरोप लगाकर वृद्ध महिला की पिटाई, तीन आरोपियों की गिरफ्तारी

Janjwar Desk
26 March 2022 12:59 PM GMT
Jharkhand Crime News : डायन का आरोप लगाकर वृद्ध महिला की पिटाई, तीन आरोपियों की गिरफ्तारी
x

डायन का आरोप लगाकर वृद्ध महिला की पिटाई, तीन आरोपियों की गिरफ्तारी

Jharkhand Crime News : पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है, तीनों आरोपियों ने हेरहंज थाना क्षेत्र के मारी गांव में एक वृद्ध महिला को डायन कह कर पिटाई (Old Woman Beaten In Latehar) की थी...

Jharkhand Crime News : झारखंड (Jharkhand) के लातेहार (Latehar) जिले में पुलिस की लगातार कार्रवाई के बावजूद अंधविश्वास की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। बीते शुक्रवार को भी पुलिस ने ऐसे ही एक मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। तीनों आरोपियों ने हेरहंज थाना क्षेत्र के मारी गांव में एक वृद्ध महिला को डायन कह कर पिटाई (Old Woman Beaten In Latehar) की थी। जिसमें वृद्ध महिला के गंभीर रूम से घायल होने के बाद हेरहंज थाना में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने के छापेमारी

बता दें की इस मामले की जानकारी होने के बाद पुलिस ने इसे पूरी गंभीरता से लेते हुए बालूमाथ एसडीपीओ अजीत और इंस्पेक्टर शशि रंजन ने टीम बनाकर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की। तीनों आरोपियों को पुलिस ने बीते शुक्रवार को गिरफ्तार कर जेल भेज (Latehar Police Arrested Three Accused) दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गिरफ्तार आरोपियों में फुलदेव गंझू, तपेश्वर गंझू तथा प्रमोद गंझू शामिल है। तीनों हेरहंज थाना क्षेत्र के मारी गांव के रहने वाले हैं।

एसडीपीओ ने अंधविश्वास को लेकर की ये अपील

बता दें कि बालूमाथ के एसडीपीओ अजीत कुमार ने ग्रामीणों से अपील किया है कि अंधविश्वास की चपेट में आकर किसी पर ओझा गुनी का आरोप ना लगाएं। साथ ही उन्होंने कहा है कि ओझा गुनी अथवा भूत प्रेत जैसी कोई चीज नहीं होती है। यह पूरी तरह मन का भ्रम है। उन्होंने आगे कहा कि किसी भी ग्रामीण पर यदि कोई ओझा गुनी अथवा डायन भूत का आरोप लगाता है और उसे प्रताड़ित करता है तो दोषी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पहले भी हुई थी अंधविश्वास की घटना

बता दें कि झारखंड के लातेहार जिले में कुछ दिन पहले भी सदर थाना क्षेत्र के डटम गांव निवासी टोंक नारायण सिंह नामक व्यक्ति की हत्या अंधविश्वास के कारण हो गई थी। इस मामले में टोंक नारायण पर ओझा गुनी का आरोप लगाते हुए गांव के कुछ लोगों ने योजना बनाकर उनकी हत्या कर दी थी। हालांकि पुलिस ने इस मामले का उद्भेदन कर दिया और घटना में संलिप्त सभी नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Next Story

विविध