अंधविश्वास

Madhya Pradesh News : पोस्टमार्टम रूम के बाहर महिला को जिंदा करने के लिए हुआ अंधविश्वास का खेल, सांप के काटने से हुई थी मौत

Janjwar Desk
23 Jun 2022 1:03 PM GMT
Madhya Pradesh News : पोस्टमार्टम रूम के बाहर महिला को जिंदा करने के लिए हुआ अंधविश्वास का खेल, सांप के काटने से हुई थी मौत
x

Madhya Pradesh News : पोस्टमार्टम रूम के बाहर महिला को जिंदा करने के लिए हुआ अंधविश्वास का खेल, सांप के काटने से हुई थी मौत

Madhya Pradesh News : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के देवास (Devas) जिले के अस्पताल के बाहर झाड़ फूंक कर एक महिला तंत्र -मंत्र क्रिया करती रही, महिला ने झाड़ फूंक के द्वारा मृत महिला को जिंदा करने का दावा किया था...

Madhya Pradesh News : गांव में आज भी तंत्र-मंत्र और अंधविश्वास पर लोगों द्वारा भरोसा किया जाता है। इसका नजारा मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के देवास (Dewas) जिले के अस्पताल के बाहर देखने को मिला है। बता दें कि यहां झाड़ फूंक कर एक महिला तंत्र -मंत्र क्रिया करती रही। महिला ने झाड़ फूंक के द्वारा मृत महिला को जिंदा करने का दावा किया था।

तंत्र-मंत्र से नहीं होता किसी भी रोग का इलाज

बता दें कि वो महिला 15 मिनट तक झाड़ फूंक और तंत्र मंत्र के द्वारा मृत महिला को जिंदा करने का प्रयास करती रही लेकिन मृत महिला जिंदा नहीं हो सकी। वहीं इस मामले पर सीएमएचओ का कहना है कि महिला ने गलत किया। किसी भी रोग का इलाज तंत्र-मंत्र से नहीं होता। इसके लिए लोगों को डॉक्टर के पास ही जाना चाहिए।

सांप के काटने से हुई थी महिला की मौत

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के देवास जिले में भौंरासा में रहने वाली 30 वर्षीय अर्चना और उसका पति अखिलेश अनोटिया बीते मंगलवार रात फर्श पर सो रहे थे। रात करीब 11:30 बजे महिला को सांप ने काट लिया। इससे महिला आनन-फानन में उठी और पति को जगाया। इसके बाद सभी घरवाले घबरा गए और इलाज शुरू किया गया। महिला के पति अखिलेश अनोटिया का कहना है कि सांप के काटने के बाद भौंरासा क्षेत्र में सांप के काटने का उपचार करने वाले व्यक्ति से संपर्क किया गया। उस व्यक्ति ने अर्चना को धागा बांधा। वह व्यक्ति पहले भी इस तरह से कई लोगों का इलाज कर चुका है। इसके बाद वहां दवा देने के बाद परिजन महिला को देर रात जिला अस्पताल ले आए।

पोस्टमार्टम रूम के बाहर चला अंधविश्वास का खेल

अस्पताल लाते ही डॉक्टरों ने महिला की जांच की तो पता चला कि महिला की मौत हो चुकी है। डॉक्टरों ने उसके पोस्टमार्टम की तयारी की लेकिन उसके पोस्टमार्टम से पहले ही परिजनों ने महिला के शरीर को पोस्टमार्टम रूम से बाहर निकलने की जिद्द की। इसके बाद गांव से एक महिला को बुलाया। इस महिला ने अस्पताल में महिला को दोबारा जिंदा करने का दावा किया और तंत्र मंत्र शुरू कर दिया। महिला ने पेड़ से नीम की कुछ झाड़ियां उठाईं और बार- बार उसकी तरफ इशारा करते हुए मंत्र बोलती रही। महिला ने बड़ी देर तक मंत्र पढ़े लेकिन मृत महिला जिंदा नहीं हो सकी।

Next Story