अंधविश्वास

Mathura Police ने यू-ट्यूबर को हिरासत में लेकर भेजा जेल, उसने रास रचाते भगवान श्रीकृष्ण का वीडियो बना खोल दिया था बड़ा राज

Janjwar Desk
15 Nov 2021 9:52 AM GMT
mathura news
x
(पुलिस हिरासत में यू-ट्यूबर गौरव शर्मा)
इस निधिवन की एक मान्यता बताई जाती थी कि यहां स्वयं भगवान श्रीकृष्ण आज भी आकर रास रचाते हैं। और जो भी यह देख लेता है वह अंधा होकर मर जाता है अथवा मानसिक विक्षिप्त हो जाता है...

Mathura News : मथुरा के वृंदावन की प्राचीन सिद्धस्थली श्री निधिवनराज, जहां की मान्यता है की यहां स्वयं श्रीकृष्ण आज भी रोज रात को आकर रास रचाते हैं। इसी वन में आधी रात घुसकर वीडियो शूट करने वाले यू-ट्यूबर गौरव शर्मा (Gaurav Sharma) को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

दरअसल, गौरव शर्मा ने बीती 10 नवंबर को ठाकुर बांके बिहारी की प्राक्टयस्थली श्रीनिधिवनराज में दीवार फांदकर वीडियो शूट कर सैकड़ों वर्ष पुरानी मान्यता को तोड़ा था। इतना ही नहीं आरोपी ने वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया था। जिसके बाद मंदिर के सेवादार रोहित कृष्ण पुत्र भीक चंद्र गोस्वामी ने अज्ञात के विरुद्ध 13 नवंबर को IPC की धारा 295 (A) एवं आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत FIR दर्ज कराई थी। हरकत में आई पुलिस ने गौरव शर्मा को दिल्ली के पंचशील पार्क से गिरफ्तार कर लिया और मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर जेल भेज दिया।

क्या है निधिवन की मान्यता?

हालांकि इस मामले में यू-ट्यूबर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और विभिन्न धाराओं में जेल भी भेज दिया। लेकिन अभी से पहले इस निधिवन की एक मान्यता बताई जाती थी कि यहां स्वयं भगवान श्रीकृष्ण आज भी आकर रास रचाते हैं। और जो भी यह देख लेता है वह अंधा होकर मर जाता है अथवा मानसिक विक्षिप्त हो जाता है। यहां एक बड़ी बात ये कि उक्त गौरव शर्मा ने पुरानी मान्यताओं को ना सिर्फ तोड़ा है बल्कि उनका खुलासा भी किया है। क्योंकि उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा जबकी वह न तो वह अंधा हुआ न मरा और न ही मानसिक विक्षिप्त ही हुआ।

यह था मामला

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक गौरव शर्मा ने अपने करीब आधा दर्जन साथियों के साथ 10 नबंवर की रात निधिवन राज में घुसकर वीडियो शूट किया था। जिसका कंटेंट सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया था। मंदिर सेवादार सहित धार्मिक संगठनों ने यू-ट्यूबर की इस हरकत पर कड़ी आपत्ति जताते हुए इस धार्मिक मर्यादा के विरुद्ध बताकर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी।

जिसके बाद मंदिर सेवादार रोहित कृष्ण की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर गौरव को गिरफ्तार कर लिया। यहां बताते चले कि यूटूबर गौरव शर्मा इससे पहले भी जेल जा चुका है। अपने पालतू कुत्ते को हाइड्रोजन बैलून में बांधकर उड़ाने के मामले में दिल्ली पुलिस ने इसी साल के फरवरी महीने में उसे गिरफ्तार किया था।

अलीगढ़ का निवासी है यू-ट्यूबर

प्रभारी कोतवाली विनय कुमार मिश्र ने बताया, इस मामले का अभियुक्त गौरव शर्मा मूलतः अलीगढ़ का रहने वाला है। इन दिनों वह दिल्ली के मालवीय नगर क्षेत्र में रहता है। उसे वहीं से गिरफ्तार कर मथुरा लाया गया और मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया। आरोपी गौरव शर्मा ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह बीते पांच वर्ष से दिल्ली में ही रहकर गौरव जोन नाम से यू-ट्यूब चैनल चलाता है और इससे अच्छा-खासा कमा लेता है।

वह 6 नवंबर को मथुरा में महोली रोड स्थित अपने चाचा राजकुमार के यहां गया था। उसने बताया कि उसे उसके चचेरे भाई प्रशांत ने बातों-बातों में बताया कि वृन्दावन में एक ऐसा स्थान है जहां प्राचीन मान्यता है कि रात में भगवान स्वयं लीला करने आते हैं और कोई भी व्यक्ति वहां रात में रुक नहीं सकता है। ऐसा करने पर मंदिर की ओर से प्रतिबंध है, क्योंकि यदि कोई व्यक्ति वहां रुकने का प्रयास करता है तो वह या तो मर जाता है अथवा विक्षिप्त हो जाता है।

इस तरह शूट किया वीडियो

मोबाइल फ़ोन से बनाया वीडियो आरोपी ने बताया कि इसके बाद उसने प्रशांत व उसके मित्रों मोहित, अभिषेक व एक अन्य के साथ रात में वहां जाने एवं निधिवन का वीडियो बनाने का प्रयास किया। उसने बताया कि वे सभी मध्य रात्रि कार से वहां पहुंचे और गौरव के साथ प्रशांत और मोहित मंदिर परिसर की दीवार फांद कर अंदर प्रवेश कर गए। अभिषेक और पांचवां लड़का गाड़ी में ही बैठे रहे थे।

वहीं, पुलिस ने बताया कि गौरव द्वारा अपने मोबाइल फोन से वीडियो बनाने के बाद करीब 15-20 मिनट में वे सभी वहां से वापस आ गए। उन्होंने बताया कि इसके बाद दिल्ली पहुंचकर गौरव ने नौ नवम्बर को वह वीडियो अपने यू-ट्यूब चैनल पर अपलोड कर दिया, लेकिन जब 13 नवम्बर को उसे पता चला कि इस मामले में उनके खिलाफ वृन्दावन में मुकदमा दर्ज करा दिया गया है।

Next Story

विविध

Share it