Top
अंधविश्वास

तांत्रिक के उकसावे पर ग्रामीणों ने महिला को मान लिया डायन, बुरी तरह मारपीट कर 2 महीने पहले हुई मौतों का बताया जिम्मेदार

Janjwar Desk
14 July 2021 12:24 PM GMT
तांत्रिक के उकसावे पर ग्रामीणों ने महिला को मान लिया डायन, बुरी तरह मारपीट कर 2 महीने पहले हुई मौतों का बताया जिम्मेदार
x

डायन ठहराकर महिलाओं के उत्पीड़न की घटनायें हमारे समाज में हो चुकी हैं आम (प्रतीकात्मक फोटो।

2 महीने के भीतर गांव में हुई 2 मौतों के लिए तांत्रिक विपिन मांझी ने महिला को जिम्मेदार ठहराया, जिसके बाद पूरे गांव में महिला के डायन होने का अंधविश्वास फैल गया...

जनज्वार। अंधविश्वास हमारे समाज में गहरी जड़ें जमाकर बैठा हुआ है। इसकी आड़ में लोगों को प्रताड़ित करने से लेकर जान लेने तक की घटनायें सामने आती रहती हैं। खासकर विधवा और बेऔलाद महिलाओं को डायन बताना हमारे समाज में बहुत आम हो चुका है। देश के विभिन्न हिस्सों से अब तक डायन बताकर हजारों महिलाओं को मौत के घाट उतारा जा चुका है।

अब ऐसी ही एक घटना बिहार के नवाजा जिले से सामने आयी हैं। यहां के नवाजा जिले में अकबरपुर थाना क्षेत्र में एक तांत्रिक विपिन मांझी ने गांव की महिला को डायन ठहरा दिया, जिसके बाद ग्रामीणों ने महिला को जान लेने की कोशिश की। तांत्रिक के इशारे पर महिला को न सिर्फ प्रताड़ित करने की कोशिश की, बल्कि दर्जनभर से भी ज्यादा लोगों ने पीड़ित महिला को पीटा भी।

मीडिया में आई जानकारी के मुताबिक पिछले 2 महीनों के दौरान 2 ग्रामीणों की मौत के लिए तांत्रिक विपिन मांझी ने महिला को जिम्मेदार बताया था। ग्रामीणों को तांत्रिक ने विश्वास दिलाया कि यह औरत डायन है, उसी के कारण उन दोनों की मौत हुयी है। तांत्रिक विपिन मांझी ने पूरे गांव वालों से कहा कि गांव के ही बिगन मांझी की सांप काटने से जो मौत हुई है उसकी जिम्मेदार यही महिला है। 2 महीने के भीतर गांव में हुई 2 मौतों के लिए विपिन मांझी ने महिला को जिम्मेदार ठहराया, जिसके बाद पूरे गांव में महिला के डायन होने का अंधविश्वास फैल गया।

नवादा जिले के अकबरपुर थाना क्षेत्र की बुधुआ पंचायत के छपरा गांव की महिला कोसमी उर्फ कुंती देवी को ग्रामीणों ने तांत्रिक के कहने पर न सिर्फ घंटों तक बंधक बनाए रखा और प्रताड़ित किया, बल्कि बाल काटकर पूरे गांव में घुमाया भी।

इस मामले में थानाध्यक्ष अजय कुमार ने मीडिया को बताया, छपरा गांव में डायन बताकर महिला कोसमी देवी को ओझा भगत विपिन मांझी घर में कुछ लोगों के सहयोग से बंधक बनाए हुए था। उसके बाल काटकर पूरे गांव में घुमाने की सूचना पुलिस को मिली थी, इसलिए तुरंत एक्शन लेते हुए विपिन मांझी के घर से महिला को बरामद कर लिया गया।

खबरों के मुताबिक सबसे पहले तांत्रिक विपिन मांझी ने महिला को डायन ठहराते हुए पूरे गांव के सामने प्रताड़ित किया और महिला के साथ हाथापाई की। पूरे गांव के सामने तांत्रिक विपिन मांझी बार-बार महिला को झाड़-फूंक कर सांप को बुलाने के लिए कह रहा था। धमकाया कि अगर उसने ऐसा नहीं किया तो उसके सिर के आधे बाल काटकर गांव में घुमाया जाएगा। तांत्रिक के उकसाने पर गांव के ही कुछ लोगों ने महिला के साथ हाथापाई भी की।

तांत्रिक के उकसावे में शायद ग्रामीण महिला की जान भी ले लेते, मगर इसी बीच किसी ग्रामीण ने पुलिस को फोन कर दिया और वह मौके पर पहुंच गयी। पुलिस आरोपी तांत्रिक को हिरासत में लेकर महिला को थाने लायी। थाने में महिला ने तांत्रिक के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी। फिलहाल महिला की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी विपिन मांझी को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है।

Next Story

विविध

Share it