अंधविश्वास

Telangana Crime News : 'पुजारी ने किया मुझ पर काला जादू', शक के कारण आरोपी ने बाप-बेटे को दी दर्दनाक मौत

Janjwar Desk
19 Oct 2022 1:08 PM GMT
Telangana Crime News : पुजारी ने किया मुझ पर काला जादू, शक के कारण आरोपी ने बाप-बेटे को दी दर्दनाक मौत
x

Telangana Crime News : 'पुजारी ने किया मुझ पर काला जादू', शक के कारण आरोपी ने बाप-बेटे को दी दर्दनाक मौत

Telangana Crime News : अपराधी को ऐसा भरोसा हो गया कि उसके बीमार होने, वित्तीय दिक्कतों, कानून मामलों में फंसने और पूर्णमासी की रात ज्यादा परेशान हो जाने के पीछे पुजारी का हाथ है क्योंकि वह पैसे न लौटाने के लिए उस पर काला जादू कर रहा है, जिसके बाद उसने कुछ लोगों की मदद से पुजारी की हत्या की योजना बनाई...

Telangana Crime News : हैदराबाद से एक दिन दहला देने वाली खबर सामने आई है। यहां राचाकोंडा पुलिस का कहना है कि उन्होंने 75 साल के पुजारी और उनके बेटे की हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया है। इस हत्या के पीछे अंधविश्वास का कारण सामने आया है। वहीं राचाकोंडा पुलिस का कहना है कि 31 साल का आरोपी व्यक्ति मृतक पुजारी को लंबे समय से जनता था। उसे यह भरोसा था कि अगर पुजारी उसके लिए एक विशेष पूरा करवाए तो वह कुछ भी हासिल कर सकता है।

6 लाख रुपए में करवाई थी नौकरी लगवाने के लिए पूजा

इस मामले में पुलिस का कहना है कि अपराधी ने वर्ष 2016 में पुलिस की भर्ती परीक्षा में भाग लिया था। तब पुजारी ने उससे 6 लाख रुपये लेकर ऐसी पूजा कराई थी, जिससे उसकी नौकरी लग जाए। पुजारी ने उससे किसी और को 12.50 लाख रुपये भी दिलवाए थे। इस सब के बाद भी अपराधी की नौकरी नहीं लगी।

आरोपी ने पुजारी से मांगे पूरे पैसे वापस

मौकरी नहीं लगने के बाद अपराधी ने उस व्यक्ति से अपने 12.50 लाख रुपये वापस लौटाने का दबाव बनाया। व्यक्ति ने 10 लाख रुपये कैश और 12.50 लाख का चेक उसे दे दिया लेकिन पुजारी ने उसे 6 लाख रुपये लौटाने से मना कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जब पुजारी ने युवक को 6 लाख रुपए लौटने के लिए इनकार कर दिया तो इसके बाद अपराधी वित्तीय परेशानियों से जूझने लगा तथा इस समस्या से निकलने के लिए भी उसने कई जगह पूजा-पाठ में पैसे लगा दिए। वह मार्च 2021 से पुजारी से अपने 6 लाख रुपये वापस मांग रहा था मगर वह इसे टाले जा रहा था।

काला जादू करने के शक में की पुजारी और बेटे की हत्या

वहीं अपराधी को ऐसा भरोसा हो गया कि उसके बीमार होने, वित्तीय दिक्कतों, कानून मामलों में फंसने और पूर्णमासी की रात ज्यादा परेशान हो जाने के पीछे पुजारी का हाथ है क्योंकि वह पैसे न लौटाने के लिए उस पर काला जादू कर रहा है, जिसके बाद उसने कुछ लोगों की मदद से पुजारी की हत्या की योजना बनाई। फिर 14 अक्टूबर को उसने कुछ साथियों के साथ मिलकर पुजारी और उसके बेटे पर उसके घर पर जाकर हमला कर दिया। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि मामले की जांच के बाद आरोपी और उसके साथ इस हत्या में शामिल साथियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Next Story

विविध