कोविड -19

Covid 19 : मकर संक्रांति पर नहीं लगेगी आस्था की डुबकी, हरिद्वार आये तो हो सकती है फजीहत

Janjwar Desk
11 Jan 2022 2:58 PM GMT
Covid 19 : मकर संक्रांति पर नहीं लगेगी आस्था की डुबकी, हरिद्वार आये तो हो सकती है फजीहत
x
Covid 19 : एसएसपी हरिद्वार डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया है कि कोरोना महामारी के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए हरिद्वार में मकर संक्रांति के स्नान पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है...

Covid 19 : उत्तराखण्ड में कोविड महामारी का प्रकोप आस्था तक पहुंच गया है। मकर संक्रांति के मौके पर हरिद्वार की गंगा नदी (Ganga River) में कोरोना (Covid 19) के कारण श्रद्धालु इस बार आस्था की डुबकी नहीं लगा सकेंगे। प्रशासन ने मकर संक्रांति के मौके पर लगने वाले सालाना मेले पर इस बार प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसे में यदि श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान के लिए हरिद्वार (Haridwar) का रुख किया तो उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

एसएसपी हरिद्वार डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया है कि कोरोना महामारी के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए हरिद्वार में मकर संक्रांति के स्नान पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है।

उन्होंने आगामी मकर संक्रांति के स्नान पर्व को लेकर विस्तृत जानकारी देते हुए हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं से अपील की है मकर सक्रांति स्नान पर्व पर कोविड-19 के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को देखते हुए मकर सक्रांति के स्नान को स्थगित कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि मकर सक्रांति के स्नान पर्व पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा हर की पैड़ी और उसके आसपास के सभी गंगा घाटों पर स्नान पर पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा।

उन्होंने हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं से अपील की है कि वे हरिद्वार ना आएं। क्योंकि स्नान पर्व को प्रतिबंधित कर दिया गया है। यहां आने पर उन्हें कई तरह की असुविधाओं का सामना करना पड़ सकता है।

रावत ने बताया कि मकर संक्रांति के स्नान पर्व पर कोविड-19 की गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्यवाही भी की जा सकती है। दिक्कत से बचने के लिए लोग खुद ही हरिद्वार न आएं।

Next Story

विविध