Top
कोविड -19

बड़ी खबर : देश के चर्चित हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. केके अग्रवाल का कोरोना से निधन

Janjwar Desk
18 May 2021 2:51 AM GMT
बड़ी खबर : देश के चर्चित हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. केके अग्रवाल का कोरोना से निधन
x

डॉ. केके अग्रवाल : कोरोना में अनगिनत लोगों का सहारा बने जनता के प्रिय डॉक्टर ने भी कोरोना से गंवाई जान

जनज्वार। देश के जाने-माने हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. केके अग्रवाल का भी कोरोना से लंबी लड़ाई के बाद सोमवार 17 मई की रात को निधन हो गया। वो पिछले काफी दिनों से बीमार और वेंटीलेटर सपोर्ट पर थे। एम्स में भर्ती डॉ. अग्रवाल का कोरोना पॉजिटिव होने के बाद से इलाज चल रहा था और विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही थी, जहां उनकी हालत स्थिर बनी हुई थी।

जानकारी के मुताबिक कल 17 मई की रात लगभग 11:30 बजे उनका निधन हो गया था, जिसकी सूचना एम्स प्रशासन ने देर रात लगभग 2 बजे जारी की। इन दिनों सोशल मीडिया पर केके अग्रवाल खासा चर्चित थे और चर्चा का कारण था उनके कोरोना वायरस पर जानकारीपरक वीडियो। अपने वीडियो के माध्यम से वे न केवल आम जनता को जागरूक करने का काम कर रहे थे, बल्कि कोरोना से लड़ने के लिए एक ताकत भी देते थे।

कोरोना होने के बाद 2—3 दिन पहले उनके निधन की फेक खबर भी सोशल मीडिया पर वायरल हुयी थी, जिस पर उनके परिजनों ने बयान जारी कर अनुरोध किया था, नोटिस किया है कि डॉ के के अग्रवाल के स्वास्थ्य के बारे में निराधार अफवाह फैलाई जा रही हैं, जिसके कारण उनके परिवार और शुभचिंतकों को बहुत परेशानी हुई है।

परिवार ने बताया था कि डॉ. अग्रवाल इस समय कोविड-19 (COVID-19) संक्रमण से गंभीर रूप से जूझ रहे हैं लेकिन विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम उनका इलाज कर रही है और उनकी हालत स्थिर बनी हुयी है। उनकी मौत से जुड़ी किसी भी अफवाह पर विश्वास करने या साझा करने से बचें और उनके जल्दी स्वस्थ होने की प्रार्थना करें।

गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही डॉ. केके अग्रवाल कोरोना पॉजिटिव हुए थे। उनके साथ उनकी पत्नी भी कोरोना पॉजिटिव हुयीं थीं, जो होम आइसोलेशन में हैं। मगर केके अग्रवाल की तबीयत ज्यादा खराब होने के बाद उन्हें अस्पताल में एडमिड कराया गया। काफी दिनों से वह वेंटीलेटर सपोर्ट पर थे।

जानकारी यह भी सामने आ रही है कि डॉ. अग्रवाल कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए दी जा रही वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके थे, मगर बावजूद इसके उन्हें बचाया नहीं जा सका। डॉ. अग्रवाल 62 साल थे थे।

डॉ. अग्रवाल दिल्ली ही नहीं देश के दूसरे राज्यों में भी हृदय रोग से संबंधित सभी बीमारियों का अच्छे तरीके से सलाह देने और उनका इलाज कराने में पूरी मदद करते थे।

हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के प्रमुख डॉ. अग्रवाल को साल 2010 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उनका एक यूट्यूब चैनल भी था, जिसपर वह वीडियो बनाकर कोरोना वायरस समेत कई अन्य बीमारियों के बारे में लोगों को जानकारी और सलाह भी देते थे, जो आम लोगों के बीच खासा चर्चित है।

Next Story

विविध

Share it