Top
कोविड -19

कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की मौत के बाद अस्पताल के श्मशान घाट से शव लेकर फरार हुआ बेटा

Janjwar Desk
6 Oct 2020 5:38 PM GMT
कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की मौत के बाद अस्पताल के श्मशान घाट से शव लेकर फरार हुआ बेटा
x

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना संक्रमित व्यक्ति के अस्पताल में निधन हो जाने के बाद उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए एलिसब्रिज के वीएस अस्पताल स्थित श्मशान गृह ले जाया गया था, जहां से मृतक का पुत्र शव लेकर फरार हो गया...

जनज्वार। गुजरात की राजधानी अहमदाबाद में एक आश्चर्यजनक मामला सामने आया है। यहां कोरोना संक्रमित पिता की मौत के बाद उसका पुत्र शव लेकर भाग गया। उस कोरोना संक्रमित का स्थानीय अस्पताल में उपचार के क्रम में निधन हो गया था।

बताया जाता है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति के अस्पताल में निधन हो जाने के बाद उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए एलिसब्रिज के वीएस अस्पताल स्थित श्मशान गृह ले जाया गया था, जहां से मृतक का पुत्र शव लेकर फरार हो गया। इसके बाद वहां हड़कंप मच गया, चूंकि कोरोना इन्फेक्टेड की मृत्यु होने पर उसके शव के अंतिम संस्कार के लिए प्रोटोकॉल निर्धारित है।

इसके बाद एलिसब्रिज थाने की पुलिस ने उस पुत्र के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि बेटे द्वारा पिता का शव लेकर बांसवाड़ा जाने की बात सामने आ रही है। लिहाजा वहां के पदाधिकारियों से संपर्क कर कोरोना प्रोटोकॉल के अनुसार अंतिम संस्कार करा देने का अनुरोध किया गया है। बताया जाता है कि मृतक कोरोना संक्रमित था।उसका इलाज अहमदाबाद स्थित सुश्रुषा अस्पताल में चल रहा था, वहीं इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।

जानकारी के मुताबिक, राजधानी अहमदाबाद के नवरंगपुरा स्थित सुश्रुषा अस्पताल में 10 दिन पहले उस व्यक्ति को भर्ती कराया गया था। वह मूलरूप से राजस्थान के बांसवाड़ा जिला का निवासी बताया जाता है। उपचार के दौरान ही बीते 5 अक्टूबर की सुबह उसकी मौत हो गई थी।

अस्पताल ने इसकी सूचना निगम को दी थी और शव को अंतिम संस्कार के लिए भेज दिया गया। श्मशान गृह पहुंचने के बाद कोरोना संक्रमित का शव गायब हो गया। इसके बाद वहां हड़कंप मच गया। संबंधित अधिकारियों ने उसके बेटे महेंद्र को फोन करना शुरू किया, पर उसका फोन लगातार बंद आ रहा था। इसी बीच पता चला कि वह अपने पिता का शव लेकर फरार हो गया है।

Next Story

विविध

Share it