Top
कोविड -19

एंबुलेंस में तड़पती मां को बचाने के लिए गिड़गिड़ाता रहा बेटा, डॉक्टरों ने मुंह मोड़ा तो बिना इलाज लौटा घर

Janjwar Desk
5 May 2021 2:41 PM GMT
एंबुलेंस में तड़पती मां को बचाने के लिए गिड़गिड़ाता रहा बेटा, डॉक्टरों ने मुंह मोड़ा तो बिना इलाज लौटा घर
x
बेटा चंदन डॉक्टर के सामने बिलखता रहा था कि उसकी मां की जान संकट में है पर डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों को कोई तरस नहीं आया.....

जनज्वार डेस्क। कोरोना महामारी के बीच उत्तर प्रदेश के फर्रूखाबाद से एक दुखद तस्वीर सामने आयी है। दरअसल यहां एक महिला को सांस लेने में तकलीफ आ रही थी, महिला काफी देर तक एंबुलेंस में ही तड़पती रही लेकिन अस्पताल की ओर से कह दिया गया कि बेड खाली नहीं हैं। इसके बाद बेटा डॉक्टरों के सामने बिलखता रहा लेकिन डॉक्डरों ने मुंह मोड़ दिया। कोई भी डॉक्टर आगे नहीं आया। इसके बाद मायूस होकर बेटा बिना इलाज मां को लेकर लौट गया।

खबरों के मुताबिक फर्रुखाबाद के गढ़ी अशरफ की रोशना देवी की मंगलवार देर शाम हालत बिगड़ गई। बेटा चंदन सिंह उसे लेकर लोहिया अस्पताल पहुंचा। 108 एंबुलेंस चालक सूरज महिला को लेकर आया था। यहां मेडिकल स्टाफ ने महिला की सांसें अटकती देखीं तो सीधे बेड खाली न होने की बात बताई। महिला एंबुलेंस में घंटों ऑक्सीजन के सहारे बेचैन तड़पती रही।

बेटा चंदन डॉक्टर के सामने बिलखता रहा था कि उसकी मां की जान संकट में है पर डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों को कोई तरस नहीं आया। स्वास्थ्य कर्मी सिर घुमाकर चले गए। चंदन बेबस होकर मां को तड़पते हुए अस्पताल से लेकर चला गया। इस मामले में डॉ. प्रदीप ने बताया कि अस्पताल में बेड खाली नही हैं। बेड खाली होने पर ही मरीज को भर्ती किया जाएगा।
Next Story

विविध

Share it