आर्थिक

भारत के सबसे बड़े कर्जदार पूंजीपति Gautam Adani ने किया ऊर्जा क्षेत्र में 10 सालों के दौरान 100 अरब डॉलर निवेश का वादा

Janjwar Desk
27 Sep 2022 11:44 AM GMT
भारत के सबसे बड़े कर्जदार पूंजीपति Gautam Adani ने किया ऊर्जा क्षेत्र में 10 सालों के दौरान 100 अरब डॉलर निवेश का वादा
x

file photo

Gautam Adani : अडानी ग्रुप (Adani Group) अगले 10 साल में ऊर्जा क्षेत्र में 100 अरब डॉलर से अधिक का निवेश ( investment ) करेगा, निवेश का 70 प्रतिशत ऊर्जा संक्रमण क्षेत्र के लिए निर्धारित किया गया है...

नई दिल्ली। दुनिया के तीसरे नंबर के धनकुबेर और अडानी ग्रुप ( Adani Group ) के चेयरमैन गौतम अडानी ( Gautam Adani ) ने बड़ा ऐलान किया है। फोर्ब्स ग्लोबल सीईओ कांफ्रेंस के 20वें एडिशन में मंगलवार को अडानी ने कहा कि उन्होंने एनर्जी ट्रांसमिशन स्पेस के लिए बड़ी निवेश योजना तैयार की है। वह एनर्जी ट्रांजिशन स्पेस ( energy transition space) में आगामी 10 साल में 100 अरब डालर का निवेश करेंगे। उनकी कंपनी 100 अरब डालर का निवेश अक्षय और वैकल्पिक ऊर्जा कारोबार में करेगी।

गौतम अडानी ( Gautam Adani ) ने कहा कि एक ग्रुप के रूप में अगले एक दशक में हम एनर्जी ट्रांजिशन में 100 अरब की पूंजी का निवेश करने जा रहे हैं। हमने इस रकम का 70 फीसदी एनर्जी ट्रांजिशन स्पेस के लिए आवंटित किया है। हम 20 गीगावाट कैपेसिटी के साथ दुनिया में सबसे बड़ी सोलर कंपनी है और हम इस दिशा में और आगे बढ़ना चाहते हैं। उनकी कंपनी 70 से ज्यादा अरब का निवेश इंटीग्रेटेड हाइड्रोजन वैल्यू चैन में करेगी। उनके इस ऐलान से साफ है कि अडानी न्यू इंडस्ट्रीज एनर्जी ट्रांजिशन स्पेस पर बड़ा दांव खेलने की योजना पर काम कर रही है। सोलर एनर्जी के मामले में अडानी ग्रुप का पोर्टफोलियो विशाल है।

नए बिजनेस में सोलर एनर्जी ( Solar Energy ) के जरिए 45 गीगावाट कैपेसिटी जोड़ी जा रही है। गौतम ने कहा कि करीब 1,00,000 हेक्टेयर में हाइब्रिड रिन्यूएबल एनर्जी पावर जेनरेशन विकसित की जा रही है जो सिंगापुर से 1.4 गुना अधिक है। उन्होंने ( Gautam Adani ) कहा कि हम 10 गीगावॉट का सिलिकॉन बेस्ड फोटो वॉल्टिक वैल्यू चैन बनाने के लिए काम कर रहे हैं। इसमें रॉ सिलिकॉन से लेकर सोलर पैनल तक सब कुछ बनाया जाएगा। विंड टरबाइन मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी की क्षमता 10 गीगावाट की होगी जबकि 5 गीगा वाट की हाइड्रोजन इलेक्ट्रोलाइजर फैक्ट्री बनाई जा रही है।

निवेश के लिए भारत सबसे बेहतर देश

अडानी ग्रुप ( Adani Group ) के चेयरमैन गौतम अडानी ( Gautam Adani ) ने कहा कि भारत अविश्वसनीय अवसरों से भरा है। भारत के विकास की कहानी अभी शुरू हो रही है। यह कंपनियों के लिए भारत के आर्थिक पुनरुत्थान और दुनिया के सबसे बड़े और सबसे युवा लोकतंत्र की अविश्वसनीय बहु दशक टेलविंड को अपनाने के लिए सबसे अच्छी जगह है। भारत के अगले तीन दशक दुनिया पर पड़ने वाले प्रभाव के लिए सबसे निर्णायक वर्ष होंगे।

गौरतलब है कि अडानी ग्रुप देश में तेजी से कारोबार फैलाने वाला बिजनेस समूह है। मौजूदा समय में ग्रुप के अंतर्गत अडानी एंटरप्राइज, अडानी पावर, अडानी ग्रीन, अडानी ट्रांसमिशन, अडानी गैस और अडानी पोर्ट है। अंबानी ग्रुप की सभी कंपनियों पर 2.18 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है।

दरअसल वित्त वर्ष 2021.22 के अंत यानी मार्च 2022 तक गौतम अडानी ग्रुप की कंपनियों का कर्ज पिछले साल की तुलना में 42 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ चुका है। जानकारी के मुताबिक पिछले साल अडानी ग्रुप की सभी कंपनियों पर कुल मिलाकर करीब 1.57 लाख करोड़ रुपए का कर्ज था, लेकिन इस वर्ष अडानी के कर्ज में एक बार फिर एक बड़ा उछाल देखा गया है।

Next Story

विविध