Top
आर्थिक

नरेंद्र मोदी के करीबी गिरीश चंद्र मुर्मू भारत के नए कैग नियुक्त किए गए, अधिसूचना जारी

Janjwar Desk
6 Aug 2020 5:54 PM GMT
नरेंद्र मोदी के करीबी गिरीश चंद्र मुर्मू भारत के नए कैग नियुक्त किए गए, अधिसूचना जारी
x
गिरीश चंद्र मुर्मू प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात में भी उनके प्रधान सचिव के रूप में काम कर चुके हैं। अब मोदी सरकार ने उन्हें केंद्र में कैग जैसा अहम पद दिया है...

जनज्वार। 1985 बैच के आइएएस अधिकारी गिरीश चंद्र मुर्मू (Girish Chandra Murmu) को भारत का नियंत्रक महालेखा परीक्षक (CAG-Comptroller & Auditor General of India) नियुक्त किया गया है। इस संबंध में वित्त मंत्रालय ने गुरुवार (6th August 2020) की रात अधिसूचना जारी कर दी। मात्र एक दिन पहले मुर्मू ने जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल के पद से इस्तीफा दिया था, जिसे राष्ट्रपति ने स्वीकार कर लिया था। मुर्मू की जगह पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को जम्मू कश्मीर का नया उप राज्यपाल नियुक्त किया गया। मुर्मू के इस्तीफे के साथ ही यह अटकल लगायी जा रही थी कि वे देश के अगले कैग नियुक्त किए जाएंगे।

गिरीश चंद्र मुर्मू नियंत्रक महालेखा परीक्षक के पद पर राजीव महर्षि की जगह लेंगे। राजीव महर्षि का कार्यकाल आठ अगस्त को समाप्त हो रहा है। 60 वर्षीय मुर्मू गुजरात कैडर के आइएएस अधिकारी रहे हैं। नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब मुर्मू उनके प्रधान सचिव के रूप में काम कर चुके हैं। उन्हें मोदी के सबसे विश्वासपात्र अधिकारियों में माना जाता है।

मौजूदा कैग राजीव महर्षि पहले देश के गृह सचिव रहे हैं और कैग के पद पर उनकी नियुक्ति 25 सितंबर 2017 को की गई थी। नियंत्रक एवं महा लेखा परीक्षक का पद काफी महत्वपूर्ण होता है। विनोद राय ने इस पद की जिम्मेवारी संभालते हुए इस पद को उसी तरह चर्चा में लाया था जिस तरह टीएन शेषण ने मुख्य चुनाव आयुक्त बनने के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त के पद को चर्चा में लाया था।

ऐसे में इस महत्वपूर्ण पद गिरीश चंद्र मुर्मू की नियुक्ति काफी अहम है। मोदी सरकार ने पिछले साल जम्मू कश्मीर से धारा 370 व 35ए हटाने के बाद उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर व लद्दाख के रूप में अस्थायी रूप से विभाजित कर दिया था और जम्मू कश्मीर का पहला उप राज्यपाल 31 अक्तूबर 2019 को गिरीश चंद्र मुर्मू को नियुक्त किया था।

Next Story

विविध

Share it