शिक्षा

काशीपुर में बाल दिवस पर संदिग्ध परिस्थितियों में बच्चे की स्कूल में हुई मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

Janjwar Desk
14 Nov 2022 12:59 PM GMT
काशीपुर में बाल दिवस पर संदिग्ध परिस्थितियों में बच्चे की स्कूल में हुई मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
x

बाल दिवस पर संदिग्ध परिस्थितियों में बच्चे की स्कूल में हुई मौत, परिजनों ने लगाया स्कूल पर आरोप, स्कूल पर पुलिस तैनात

Uttarakhand news : परिजनों का आरोप है कि एक शिक्षक ने गृहकार्य पूरा न पूरा करने पर बच्चे की बेरहमी से पिटाई की है, बुरी तरह पीटे जाने के कारण उनके बच्चे की मौत हो गई है...

Kashipur news : बाल दिवस के मौके ऊधमसिंहनगर के काशीपुर के पं. गोविंद बल्लभ पंत इंटर कॉलेज में आठवीं क्लास में पढ़ने वाले 12 साल के बच्चे की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। इस घटना से गुस्साए बच्चे के परिजनों ने स्कूल प्रशासन पर हत्या का आरोप लगाया है, जबकि स्कूल प्रशासन बच्चे की मौत को आकस्मिक घटना बता रहा है। घटना के बाद से स्कूल में हड़कंप मचा हुआ है। मामले की गंभीरता को देखते हुए सुरक्षा के लिहाज से विद्यालय गेट पर पुलिस तैनात की गई है।

जानकारी के अनुसार काशीपुर काली मंदिर निवासी 12 वर्षीय मोक्ष गुप्ता पुत्र सुबोध कुमार गुप्ता पं. गोविंद बल्लभ पंत इंटर कॉलेज में आठवीं का छात्र था। सोमवार 14 नवंबर को हर रोज की तरह मोक्ष विद्यालय आया हुआ था, लेकिन कुछ देर बाद वह विद्यालय परिसर में ही संदिग्ध परिस्थितियों में मृत मिला। बच्चे की मौत के बाद स्कूल प्रशासन में हड़कंप मच गया। आनन फानन में इसकी सूचना पुलिस और परिजनों को दी गई। जिसके बाद सूचना पर विद्यालय पहुंची पुलिस ने बच्चे की बॉडी को कब्जे में लेकर उसका पंचनामा भरते हुए उसे पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल भेज दिया।

बच्चे की मौत के बाद विद्यालय पहुंचे बालक के परिजनों ने बच्चे की मौत के लिए स्कूल प्रशासन पर कई गंभीर इल्जाम लगाए हैं। परिजनों का आरोप है कि एक शिक्षक ने गृहकार्य पूरा न पूरा करने पर बच्चे की बेरहमी से पिटाई की है, बुरी तरह पीटे जाने के कारण उनके बच्चे की मौत हो गई है। हालांकि इस मामले में अभी तक बच्चे की मौत का कारण का स्पष्ट नहीं हो सका है। मौत की वजह को लेकर पुलिस भी अभी असमंजस में है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले में कुछ भी कहने की स्थिति होगी। मौत के वास्तविक कारणों का पता पोस्टमॉर्टम के बाद ही चलेगा।

मृतक छात्र के पिता सुबोध गुप्ता काशीपुर के एक दुकानदार के यहां काम करते हैं। वह यहां किराए के मकान पर पिछले काफी समय से रह रहे हैं। दूसरी ओर मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए सुरक्षा के लिहाज से काशीपुर की सभी पुलिस चौकियों से पुलिस बुलाकर भारी संख्या में पुलिसकर्मियों को स्कूल में तैनात किया गया है। जिससे पूरा स्कूल परिसर छावनी बन गया है।

Next Story

विविध